HomeIndiaइस मंदिर में सिर्फ दर्शन करने से मिल जाता है प्रेमी, बस...

इस मंदिर में सिर्फ दर्शन करने से मिल जाता है प्रेमी, बस नियमित रूप से करें ये खास काम

Published on

आपने कई मंदिरों के बारे में सुना होगा जहां लोग अपनी मनोकामना लिए दर्शन के लिए जाते है। लोग अपनी घर की सुख समृद्धि के लिए भगवान के दर्शन करते है अब एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे है जिसके बारे में आप बेहद कम ही जानते है। जी हां एक ऐसा मंदिर जहां दर्शन करने से ही प्रेमी मिल जाते है। ये मंदिर राजस्थान के जोधपुर में है। एक ऐसा अनोखा मंदिर जहां दर्शन के लिए लाखों श्रद्धालु जाते है।


जोधपुर में इस अनोखे मंदिर का नाम इश्किया गणेश जी का मंदिर हैं। जो यहां लोग प्रेमी को पाने के लिए पूजा पाठ करते है। वैसे हर कपल्स वैलेंटाइन डे का इंतजार करते है। क्योंकि उस दिन वो अपने प्यार का इजहार करते हैं। लेकिन इसी के साथ आपको बता दे कि इस मंदिर में वैलेंटाइन डे बड़े ही अनोखे ढंग से मनाया जाता है। वहीं इस मंदिर की खासियत है कि यहां दर्शन करते ही प्रेमी जोड़े मिल जाते है।

इस मंदिर में सिर्फ दर्शन करने से मिल जाता है प्रेमी, बस नियमित रूप से करें ये खास काम

उनका प्यार सफल हो जाता है। जहां पर प्रेमी युगल के हर इच्छा पूरी होती है। वे यहां गणेश के चरणों में अपने प्यार को पाने के लिए मुराद लगाते हैं और उनका प्यार उन्हें मिल भी जाता है। हर प्यार करने वालों का सपना होता है कि उनका प्यार मिल जाए। सफल हो जाए लेकिन ऐसे बहुत कम लोग ही है जिनका प्यार मिल पाता है।

अब इस मंदिर के बारे में जानकर कई लोग यहां जाकर अपनी मन की मुराद पूरी करते है। और अपने प्रेमी के लिए दिल से प्रार्थना करते है। इसी के साथ भगवान गणेश उनकी हर मुराद को पूरी करते है और जोड़े को मिला देते है। अगर आपको भी अपना प्यार पाना है तो जोधपुर के इस मंदिर में जरूर जाए और भगवान गणेश का दर्शन करें।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...