HomeUncategorizedउपायुक्त यशपाल के दिशा-निर्देश से दो दिन में अपडेट हुए सैकड़ों परिवार...

उपायुक्त यशपाल के दिशा-निर्देश से दो दिन में अपडेट हुए सैकड़ों परिवार पहचान पत्र

Published on


एसडीएम अपराजिता ने कहा कि उपमंडल में शनिवार और रविवार को प्रशासन द्वारा वैलफेयर सोसाइटियो के प्रतिनिधियो के सहयोग से हजारों लोगों के परिवार पहचान पत्र बनाने में सहयोग मिला। उपमंडल में इन दो दिनों में सैकड़ों परिवारों के पहचान पत्र अपडेट कर दिए गए हैं।

उपायुक्त यशपाल के दिशा-निर्देश से दो दिन में अपडेट हुए सैकड़ों परिवार पहचान पत्र


एसडीएम अपराजिता ने बताया कि जिला में उपायुक्त यशपाल के दिशा-निर्देशो पर शनिवार और रविवार को प्रशासन द्वारा वैलफेयर सोसाइटियो के प्रतिनिधियो के सहयोग से लोगों के परिवार पहचान पत्र बनाने में सहयोग अच्छा सहयोग मिल रहा है।
अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान को परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए जिला नोडल अधिकारी बनाया गया है। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा हिदायतों के अनुसार परिवार पहचान पत्र बनाने का कार्य किया जा रहा है । सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार भविष्य में परिवार पहचान पत्र बनाने के बाद सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लोगों को इसी के माध्यम से मिलेगा।


उन्होंने बताया कि परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए जागरूकता अभियान बारे प्रशासनिक अधिकारियों और वैलफेयर सोसाइटियो के प्रतिनिधियो तथा समाज सेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियो की एक बैठक भी आयोजित की गई थी, जिसमें यह सुझाव सांझा किया गया था।

उपायुक्त यशपाल के दिशा-निर्देश से दो दिन में अपडेट हुए सैकड़ों परिवार पहचान पत्र


इसी कङी में शनिवार और आज रविवार को बल्लभगढ़ की संजय कालोनी, आदर्श नगर, सुभाष कालोनी, जेसीबी चौक,सैनिक विहार तथा यादव कालोनी में पांच स्थानों पर प्रातः 10:00 बजे से सायं 5:00 बजे तक प्रशासन द्वारा सम्बन्धित वैलफेयर सोसाइटियो के प्रतिनिधियो के सहयोग से ये परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए अभियान कैम्पों का आयोजन किया गया। ये कैम्प आम जन की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए और सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए प्रशासन द्वारा वैलफेयर सोसाइटियो के प्रतिनिधियो के सहयोग से आयोजित किए गए हैं और इनमें लोगों के निशुल्क परिवार पहचान पत्र बनाए जा रहें है।


उन्होंने कहा कि ये कैम्प आम जन की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए और सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए प्रशासन द्वारा वैलफेयर सोसाइटियो के प्रतिनिधियो के सहयोग से आयोजित किए जा रहे हैं।
उन्होंने बताया कि परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए परिवार की दो आईडी और आधार कार्ड व आवेदक आय कर दाता हो तो उसका पैन कार्ड होना अनिवार्य है।


एसडीएम ने आगे बताया कि परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए आयोजित कैम्पों में कोविड-19 के संक्रमण के बचाव के लिए सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार नियमों की सही पालना सुनिश्चित की जा रही है।

उपायुक्त यशपाल के दिशा-निर्देश से दो दिन में अपडेट हुए सैकड़ों परिवार पहचान पत्र


लोगों को एक दूसरे से दो गज की दूरी बनाए रखने, मुंह पर मास्क लगाने और हाथों को साबुन से धोने तथा सनेटाइजर करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।
उपमंडल में दो दिवसीय कैम्पों के तहसीलदार सुशील कुमार को इनका प्रशासनिक इन्चार्ज बनाया गया है।
तहसीलदार सुशील कुमार ने बताया कि आज सैकङो परिवारों पहचान पत्र बनाने के जरूरी कागजात आनॅ लाइन अपलोड किए गए हैं। परिवार पहचान पत्र बनाने का पीपीपी मोड पर किया जा रहा है। ताकि आम जन की अधिक से अधिक भागीदारी हो।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...