HomeFaridabadकिसानों को रोकने की जिद्दोज़हद में जुटी कार्य प्रणाली, बॉर्डर पर तैनात...

किसानों को रोकने की जिद्दोज़हद में जुटी कार्य प्रणाली, बॉर्डर पर तैनात किए गए जवान

Published on

केंद्रीय सरकार द्वारा लागू किए गए तीन कृषि विधेयकों पर विरोध जताने के लिए किसानों ने दिल्ली कूच करने का आह्वान किया है। इस संदर्भ में जिला उपायुक्त यशपाल यादव द्वारा फरीदाबाद में धारा 144 लागू करने के आदेश दिए गए हैं।

कृषि कानून के विरोध का मुद्दा काफी ज्वलंत है किसान कानून के खिलाफ पुरजोर विरोध कर रहे हैं। विरोध को नियंत्रित करने के लिए क्षेत्र से सटे बदरपुर बॉर्डर पर पुलिस दस्ते हो तैनात कर दिया गया है। दिल्ली से आने वाले सभी मार्गों पर पुलिस बालों को तैनात कर दिया गया है ताकि प्रदर्शनकारियों को नियंत्रण में रखा जा सके।

किसानों को रोकने की जिद्दोज़हद में जुटी कार्य प्रणाली, बॉर्डर पर तैनात किए गए जवान

आपको बता दें कि फरीदाबाद के अतिरिक्त सोनीपत कार्य प्रणाली द्वारा आला कदम उठाए गए हैं। सोनीपत दिल्ली (सिंघु ) बॉर्डर पर अर्धसैनिक बलों । दिल्ली पुलिस के साथ BSF और CISF की टुकड़ियों को तैनात किया गया है।

किसानों को रोकने की जिद्दोज़हद में जुटी कार्य प्रणाली, बॉर्डर पर तैनात किए गए जवान

आपको बता दें कि बॉर्डर से आने जाने वाले तमाम यात्रियों की जांच की जा रही है ऐसे में संदिग्ध व्यक्तियों से भी पूछताछ हो रही है। बिना जांच के किसी को भी दिल्ली में प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा हैं। पुलिस ऐसे लोगों पर ख़ास निगरानी रख रही है जो काफी जो ज्यादा लोगों की संख्या के साथ सफर कर रहे हैं।

किसानों को रोकने की जिद्दोज़हद में जुटी कार्य प्रणाली, बॉर्डर पर तैनात किए गए जवान

उपायुक्त के आदेशानुसार क्षेत्र में चार से ज्यादा लोग दिल्ली नहीं जा सकते। बता दें कि फिलहाल बॉर्डर एरिया को सील नहीं किया गया है। बॉर्डर पर हर स्थिति से निपटने के लिए पुख्ता इंतजाम कर लिए है। महामारी के बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखते हुए भी जिला प्रशासन द्वारा यह कदम उठाया गया है।

किसानों को रोकने की जिद्दोज़हद में जुटी कार्य प्रणाली, बॉर्डर पर तैनात किए गए जवान

जिस तेजी से बिमारी फ़ैल रही है फरीदाबाद कार्य प्रणाली उसपर विराम लगाने की निरंतर रूप से कोशिश कर रही है। किसानों के प्रदर्शन करने से ज्यादा से ज्यादा लोगों के एकसाथ एकत्रित होने की संभावना थी ऐसे में संक्रमण बढ़ने का ख़तरा बढ़ने के खतरे से डरते हुए कार्य प्रणाली द्वारा यह कदम उठाया गया है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...