HomeIndiaबेटी की विदाई के पहले हर मां को देनी चाहिए ये सीख,...

बेटी की विदाई के पहले हर मां को देनी चाहिए ये सीख, कभी भी ससुराल में दुखी नहीं रहेगी आपकी लाडली

Published on

हमारे देश औरतों के लिए एक ऐसी बड़ी विडंबना है कि जिसे भूला नहीं जा सकता। वो है लड़कियों की शादी, जी हां पहले के समय में हर माता पिता अपनी बेटियों को शादी के लिए हर तरह की नसीहत समझाते थे जैसे कि बेटी पराया धन होती है उसे दूसरे के घर जाना है।

बेटी को ससुराल जाकर सास ससुर की सेवा करना है, जल्दी उठना है, ज्यादा नहीं बोलना है इत्यादि। ताकि बेटी को कभी भी ससुरालवाले से सुनना न पड़े।

बेटी की विदाई के पहले हर मां को देनी चाहिए ये सीख, कभी भी ससुराल में दुखी नहीं रहेगी आपकी लाडली

लेकिन अब समय के साथ साथ जमाना बदल गया है। अब मां-बाप भी अपनी बेटियों की शादी ऐसे ही घर में कराना चाहते हैं, जहां वो खुलकर जी सके, नौकरी कर सके, मन के कपड़े पहन सके।

इसके वो अब अपनी बेटी को अलग ही नसीहत देते है। लड़कियां आत्मनिर्भर बन रही हैं। अब जीवनयापन करने के लिए उन्हें घुट-घुटकर जीने को मजबूर नहीं होना पड़ता।

बेटी की विदाई के पहले हर मां को देनी चाहिए ये सीख, कभी भी ससुराल में दुखी नहीं रहेगी आपकी लाडली

आपको बता दे कि ससुराल और मायका दोनों का रहन सहन अलग होता है। शायद आपको वहां कुछ चीजें अच्छी लगे तो कुछ सुविधाओं में कमी रह जाए।

ऐसे में शुरुआती दिनों में उनके घर के रहन सहन और तौर तरीकों को अच्छे से समझें।

बेटी की विदाई के पहले हर मां को देनी चाहिए ये सीख, कभी भी ससुराल में दुखी नहीं रहेगी आपकी लाडली

वहीं ससुराल में कौन कैसा है इसे लेकर जल्दी से अपनी राय न बनाए। हो सकता है जब आप वहां जाए तब वो व्यक्ति किसी टेंशन में हो और इस वजह से ऐसा व्यवहार कर रहा हो। सभी के नेचर को आराम से समझे और उसके अनुसार अपना व्यवहार रखें। घर में सबकी मदद को हमेशा आगे रहें। यह मदद भी खुशी खुशी करें।

इससे सामने वाले को एक अपनेपन का एहसास होगा और सबसे अहम बात ससुराल और मायके की तुलना भूलकर भी न करें। यहां आपको कुछ अच्छा लगेगा और कुछ बुरा लगेगा।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...