HomeFaridabadस्मार्ट सिटी बनने के पथ पर अग्रसर है फरीदाबाद, कोरोना बचाव मानकों...

स्मार्ट सिटी बनने के पथ पर अग्रसर है फरीदाबाद, कोरोना बचाव मानकों के अनुरूप होंगे शहर के रैन बसेरे

Published on

दिसंबर और जनवरी साल के सबसे ठंडे 2 महीने माने जाते हैं। इन्हीं 2 महीनों में अनेकों गरीब लोग और उनके बच्चे ठंड की प्रताड़ना सहने को मजबूर होते हैं। ऐसे में फरीदाबाद में लोगों को नए साल का उपहार दिया है। बता दें कि नगर निगम क्षेत्र के रैन बसेरे अब पूर्ण रूप से कोरोना वायरस मानकों के अनुरूप होंगे। रैन बसेरों में ऐसी सुविधा भी होगी जहां रात को रुकने वालों के लिए सैनिटाइजर तथा मास्क मुहैया कराया जाएगा।

स्मार्ट सिटी बनने के पथ पर अग्रसर है फरीदाबाद, कोरोना बचाव मानकों के अनुरूप होंगे शहर के रैन बसेरे

इतना ही नहीं रैन बसेरों को नियमित रूप से सैनिटाइज भी किया जाएगा। बेहतर व्यवस्था की तैयारी के चलते बुधवार को निगम आयुक्त डॉ. यश गर्ग की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया। जहां पर बचाव के मानकों के सभी बिंदुओं पर विस्तृत चर्चा हुई डॉ यश गर्ग ने रैन बसेरों को लेकर अधिकारियों की जिम्मेदारी तय कर दी है।

स्मार्ट सिटी बनने के पथ पर अग्रसर है फरीदाबाद, कोरोना बचाव मानकों के अनुरूप होंगे शहर के रैन बसेरे

बता दें कि बैठक के में मुख्य अभियंता बीके कर्दम, ओल्ड फरीदाबाद की संयुक्त आयुक्त अलका चौधरी, बल्लभगढ़ के संयुक्त आयुक्त नवदीप सिंह, एनआईटी के संयुक्त आयुक्त प्रशांत अकाल, कार्यकारी अभियंता विवेक गिल, ओपी कर्दम, जीपी वाधवा तथा नगर परियोजना अधिकारी द्वारका प्रसाद प्रमुख रूप से उपस्थित थे। डॉ यश गर्ग ने हर कार्यकारी अभियंता को 1 सप्ताह में अपने अपने क्षेत्र के रैन बसेरों को हर प्रकार से दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं।

स्मार्ट सिटी बनने के पथ पर अग्रसर है फरीदाबाद, कोरोना बचाव मानकों के अनुरूप होंगे शहर के रैन बसेरे

इतना ही नहीं हर रैन बसेरे पर होर्डिंग लगे हैं जिन पर कार्यकारी अभियंता तथा कनिष्ठ अभियंता के मोबाइल नंबर मौजूद हूं। जिससे कि रैन बसेरों में रहने वाले शरणार्थियों को किसी प्रकार की कोई दिक्कत और असुविधा का सामना न करना पड़े। निगमायुक्त डॉ यश गर्ग ने सभी रैन बसेरों में 15 दिसंबर तक सुविधाएं मुहैया कराने पर जोर दिया है। इतना ही नहीं रैन बसेरों में फायर फाइटिंग सिस्टम और हर रैन बसेरे में प्राथमिक चिकित्सा किट भी उपलब्ध होगी और कार्यकारी अभियंता अपने क्षेत्र के रैन बसेरों में यह सुनिश्चित करेंगे कि सप्ताह में कम से कम एक बार यहां रहने वालों की स्वास्थ्य की जांच भी जरूर हो।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...