Pehchan Faridabad
Know Your City

हरियाणा सरकार ने किसानों की आय बढ़ाने के लिए उठाया कदम, जानिए आखिर किस प्रकार बढ़ेगी आय

हरियाणा सरकार ने किसानों की आय को बढ़ाने की ओर एक और सकारात्मक कदम उठाते हुए किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) के उत्पादों को अब हैफेड के बिक्री केन्द्रों के माध्यम से उपभोक्ताओं को उपलब्ध करवाने को निर्णय लिया है। इस संदर्भ में मंगलवार को हरियाणा के सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल की उपस्थिति में हैफेड कॉरपोरेट कार्यालय, पंचकुला में हरियाणा राज्य सहकारी आपूर्ति एवं विपणन प्रसंघ लिमिटेड (हैफेड) और किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित सहकारिता मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की सोच के अनुरूप किसानों की आय को दोगुना करने के उदेश्य से किसान उत्पादक संगठनों को हैफेड का मंच प्रदान किया जा रहा है क्योंकि हैफेड की बाजार में काफी प्रसिद्धि है। इसलिए उन्होंने ऐसे सभी एफपीओ से आग्रह भी किया कि वे अपने उत्पादों की उच्च गुणवत्ता को बरकरार रखें। उन्होंने कहा कि किसानों के उत्थान के अंतर्गत एफपीओ को ढांचागत विकास के लिए सरकार द्वारा किफायती दरों को ऋण भी उपलब्ध करवाए जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि हरियाणा के किसान उत्पादक संगठनों को सहायता प्रदान करने के मदेनजर हैफेड ने शहद, मुरब्बा (आंवला मुरब्बा), बेलगिरी मुरब्बा, सेब मुरब्बा, हरड़ मुरब्बा, अदरक मुरब्बा, लहसुन मुरब्बा को अपने उपभोक्ता उत्पादों को उपलब्ध करवाने हेतू किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) को विपणन सहायता देने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि शहद आधारित उत्पाद (शहद के साथ गुलकंद, शहद के साथ गुलकंद और दालचीनी, शहद और ईलायची के साथ गुलकंद), विभिन्न प्रकार के सिरका (हनी सिरका, एप्पल साइडर, जामुन हनी) और हल्दी इत्यादि हैफेड के बिक्री केन्द्रों के माध्यम से उपभोक्ताओं को उपलब्ध करवाए जाएंगें।

उन्होंने बताया कि हैफेड के साथ शुरुआत करने के लिए दो एफपीओ नामत: अतुल्य बीमास्टर प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड, जींद और फतेहाबाद एकता हनी फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड, जंडली कलां (फतेहाबाद) के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए हैं, जो एसएफएसीए, हरियाणा से पंजीकृत है। भविष्य में अन्य उत्पादों (एफपीओ द्वारा निर्मित) को बिक्री हेतू दोनों पक्षों की आपसी सहमति से जोड़ा जाएगा।

सहकारिता मंत्री ने बताया कि हरियाणा राज्य सहकारी आपूर्ति एवं विपणन प्रसंघ लिमिटेड (हैफेड) हरियाणा में सबसे तेजी से बढ़ते सहकारी क्षेत्र के संगठनों में से एक है, जो किसानों और उपभोक्ताओं के हित में समान रूप से सेवा देने में अग्रणी भूमिका निभा रहा है। उन्होंने बताया कि ये एफपीओ अपने उपभोक्ता उत्पादों की आपूर्ति अपनी प्रसंस्कृरित इकाइयों में तैयार व पैक करके अपने सभी ब्रांड नाम से मौजूदा सभी 29 हैफेड बिक्री केन्द्रों और भविष्य में प्रस्तावित ‘‘हैफेड बाजार’’ आउटलेट (लगभग 50) के माध्यम से उपलब्ध होंगें। उन्होंने बताया कि प्रस्तावित ‘‘हैफेड बाजार’’ आउटलेट जनवरी, 2021 के अंत तक हरियाणा के सभी जिला मुख्यालयों में खोले जाएंगें।

उन्होंने बताया कि समझौता ज्ञापन के अनुसार, एफएसएसएआई के दिशानिर्देशों के अनुसार निर्दिष्ट गुणवत्ता मानकों के अनुरूप और इन किसान उत्पादक संगठनों द्वारा संसाधित व पैक किए गए उपभोक्ता उत्पाद उपभोक्ताओं को हैफेड के बिक्री केन्द्र पर उपलब्ध होंगें। उन्होंने बताया कि सभी एफपीओ के उत्पादों को हैफेड के मौजूदा 29 बिक्री केन्द्रों और प्रस्तावित ‘‘हैफेड बाजार’’ आउटलेट (लगभग 50) पर उपभोक्ताओं को उपलब्ध कराया जाएगा।

डॉ. बनवारी लाल ने कहा कि अपने उपभोक्ता उत्पादों की बिक्री के लिए किसान उत्पादक संगठनों को सहयोग देने के लिए हैफेड की इस पहल से न केवल किसान उत्पादक संगठनों को मदद मिलेगी, बल्कि हैफेड के आउटलेट के माध्यम से उचित दर पर गुणवत्ता वाले उत्पाद खरीदने में उपभोक्ता भी सक्षम होंगे।

इससे पूर्व, हैफेड के प्रबंध निदेशक श्री डी. के. बेहरा ने कहा कि आज किए गए समझौता ज्ञापनों के लिए इन एफपीओ द्वारा निर्मित लगभग 27 उत्पादों को हैफेड के बिक्री केन्द्रों पर उपलब्ध करवाया जाएगा। इसके अलावा, भविष्य में इसी प्रकार नए एफपीओ को भी जोड़ा जाएगा ताकि उपभोक्ताओं को उच्च गुणवत्ता के उत्पाद किफायती दरों पर उपलब्ध हो सकें।

इस मौके पर बागवानी विभाग के महानिदेशक श्री अर्जुन सैनी ने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों को आय को बढ़ाने के उदेश्य से 1000 एफपीओ बनाने का निर्णय लिया है जिसके तहत अब तक 486 एफपीओ की मार्फत लगभग 75 हजार किसानों को जोड़ा जा चुका है। इसके अतिरिक्त, एफपीओ के लिए ट्रेड सेंटर की परिकल्पना की जा रही है और लगभग 20 करोड़ रूपए की लागत से एक प्रयोगशाला भी प्रस्तावित है।

कार्यक्रम के दौरान अतुल्य बीमास्टर प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड, जींद सेे श्री अनिल सिंधू और फतेहाबाद एकता हनी फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड, जंडली कलां (फतेहाबाद) से सुरेश ने भी अपने-अपने एफपीओ के बारे में जानकारी सांझा की। इस मौके पर बागवानी विभाग और हैफेड के विभिन्न वरिष्ठ अधिकारी व पदाधिकारी उपस्थित थे।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More