HomeInternationalकरीब 12 वर्ष पहले खो गई थी बेशकीमती अंगूठी, छीकते समय निकली...

करीब 12 वर्ष पहले खो गई थी बेशकीमती अंगूठी, छीकते समय निकली नाक से अंगूठी

Published on

आए दिन आप कई ऐसी अजीब-गरीब घटनाएं सुनते रहते है जिसके कारण वो चर्चा का विषय बन जाता है। कई बार तो लोग चर्चा का विषय बनने के लिए अजीब- गरीब हरकते करते है।

आज हम जिस घटना के बारे में आपको बताएंगे वो सुनने में जितनी अजीब लगे पर है उतनी ही अनोखी। हम सभी लोग ने अपने बचपन के खेल-खेल में कई ऐसी चीजे खोई होगी जो श्याद आज तक न मिली हो। जी हां कई ऐसी कीमती चीज़े हमसे खो जाती है वो शायद बाद में मिल जाती है और नहीं भी।

अब एक ऐसी ही घटना सामने आई है जिसे सुनने के बाद आप शायद सदमे में आ जाए क्योंकि खबर ही हैरान करने वाली है। तो चलिए आपको ये अजब गजब किस्सा सुना देते है। ब्रिटेन में एक महिला की नाक से एक ऐसी चीज निकली जिसे देखकर सभी हैरान रह गए।

आपको बता दे कि, ब्रिटेन में ब्रिटेन की रहने वाली अबिगेल थॉम्पसन की12 साल पहले एक अंगूठी खो गई थी जो कहीं और नहीं बल्कि उनकी नाक में कई सालों तक फंसी रही।

आप भी जानकर हैरान रह जाएंगे कि ये बेशकीमती सामान उन्हें छींक के दौरान मिला। आपको बता दे कि अबिगेल की मां ने साल 2007 में उन्हें एक बेशकीमती अंगूठी गिफ्ट की थी। इसकी कीमत लाखों में थी।

हालांकि कुछ ही महीनों पहने के बाद उनकी ये अंगूठी कहीं गुम हो गई। साल 2007 में उनकी मां ने उनके 8वें जन्मदिन के मौके पर गिफ्ट के तौर पर यह अंगूठी उन्हें दी थी, लेकिन अंगूठी गायब होने के बाद थॉम्पसन को लगा कि वह चोरी हो गई है। अबिगेल ने तब अंगूठी बहुत ढूंढने की कोशिश की थी।

वहीं 12 साल बाद थॉम्पसन बैठी थी तब उसे नाक में कुछ चमकता हुआ नजर आया। फिर उसने जोर से छींक मारी तो उसके नाक से निकल गयी। और वो देख थॉम्पसन हैरान रह गयी और खुश भी। ये चीज कुछ और नहीं बल्कि वहीं अंगूठी थी जो 12 साल पहले गुम हो गई थी।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...