Pehchan Faridabad
Know Your City

फरीदाबाद में लॉकडाउन के बाद शुरू हुआ उत्सव, जानें क्या है पीयूष महिंद्रा मॉल और पीवीआर उत्सव का कनेक्शन

कोविड 19 लॉकडाउन के बाद देश व्यपार जगत अब धीरे धीरे अपनी गति पकड़ने लगा है। पीवीआर सिनेमा, भारत की सबसे बड़ी और सबसे प्रीमियम फिल्म प्रदर्शनी कंपनी ने आज फरीदाबाद में पीयूष महिंद्रा मॉल में अपने सब-ब्रांड “पीवीआर उत्सव” के तहत अपनी तीन स्क्रीन लांच किया है । पीवीआर उत्सव ने सभी वर्गों को ध्यान में रखते हुए इस सिनेमा को फरीदाबाद में शुरुवात की है। क्षेत्र में सिनेमा मनोरंजन की बढ़ती आवश्यकता को पूरा करने के लिए स्तर दो और स्तर तीन के बाजारों में एक आधुनिक सिनेमाई अनुभव प्रदान करने के लिए पीवीआर उत्सव की रूप-रेखा बनाई गई है। तीसरे पीवीआर उत्सव के उद्घाटन के साथ, पीवीआर हरियाणा में 35 स्क्रीन और उत्तरी भारत में 258 स्क्रीन हैं।

स्वास्थ्य सुरक्षा और आदर्शों का कड़ाई से पालन करते हुए पीवीआर अपने ग्राहकों को अपने सभागारों के भीतर इष्टतम और बेहतर वायु गुणवत्ता बनाए रखने के साथ-साथ स्वस्थ हवा में सांस लेने की गारंटी देता है। तिगुना-ऊँचाई छत के साथ विशाल मूवी हॉल, ताजी हवा के बढ़ते सेवन के साथ हवा की गुणवत्ता में सुधार, हर शो के शुरू होने से पहले किए गए गहन स्वच्छता, तापमान और आर्द्रता के स्तर को बनाए रखना और बैठने में सामाजिक दूरी के सुरक्षा उपाय हैं जो मिलकर मेहमानों और कर्मचारियों की भलाई सुनिश्चित करते हैं। निजी शो, ऑनलाइन और ऑफलाइन ऑफर और सदस्य विशिष्ट छूट लॉकडाउन के उपरान्त फिल्मों की तरफ रूख करने वाले ग्राहकों के पैकेज को अधिक मधुर बनाएँगे।

शहर के औद्योगिक और आवासीय हब में स्थित मल्टीप्लेक्स राजधानी से उत्कृष्ट कनेक्टिविटी रखता है। 3-स्क्रीन सिनेमा 620 दर्शकों के बैठने की क्षमता के साथ 16242 वर्ग फुट के क्षेत्र में फैला है। इसके अतिरिक्त, नई संपत्ति को आधुनिक इन-सिनेमा प्रौद्योगिकियों जैसे 2K प्रक्षेपण प्रणाली, डॉल्बी 7.1 साउंड और यूएचडी 3डी तकनीक के साथ एकीकृत किया गया है, जो एक उत्कृष्ट सिनेमा देखने के अनुभव को सुनिश्चित करता है। हरियाणा की स्थानीय कला से प्रेरणा लेते हुए, संपत्ति को रूप रेखा और शैली पुंजा ड्यूरिस की कला अवधारणा से प्रेरित है। पीवीआर का स्वागत योग्य सिनेमा परिवेश, क्षेत्र के स्वादानुसार विविध भोजन और पेय व्यंजन सूची और एक विशाल प्रतीक्षा कक्ष आपको एक विशेष अनुभव प्रदान करेगा।

इस के साथ पीवीआर के 71 शहरों में 835 की कुल स्क्रीन हैं। पीवीआर लिमिटेड के संयुक्त प्रबंध निदेशक, संजीव कुमार बिजली ने ने कहा, कि “यह वायरस के प्रकोप और उसके बाद लॉकडाउन बाद से शुरू होने वाला हमारा पहला सिनेमा है। उन्होंने कहा की धीरे-धीरे अब स्थिति सुधर रही है और अब उनके ग्राहक भी वापस लौट रहे है जोकि हमारे लिए बहुत ख़ुशी की बात है। पीवीआर उत्सव हमारे अनूठे अर्पणों में से एक है जिसकी रूप रेखा छोटे बाजारों में दर्शकों के बढ़ते प्रतिशत को ध्यान में रखते हुए तैयार की गई है। हम फरीदाबाद में पहली बार उद्घाटन के साथ उत्तरी भारत में इसकी शुरूआत की घोषणा करते हुए प्रसन्न हैं जो क्षेत्र की जनसांख्यिकीय आवश्यकताओं के अनुरूप बनाया गया है यह भारत में तीसरा उत्सव सिनेमा है जो महानगरों से परे पीवीआर के शब्दावली को विस्तारित करने और व्यापक दर्शक आधार को पूरा करने के लिए विकास योजना के अनुरूप है।”

पीवीआर सिनेमा के मुख्य प्रवर्तन अधिकारी (सीईओ) गौतम दत्ता ने कहा “हम इस साल अधिक खुशी और बहुत अधिक जिम्मेदारी के साथ अपने ग्राहकों की ओर लौट रहे है। एक तरफ हम स्वच्छता के उच्चस्तरीय मानकों से अपने ग्राहकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने पर ध्यान केंद्रित करते है तो वहीँ दूसरी तरफ हम उनके लिए और अधिक नया और अभिनव अनुभव कराएँगे। उत्सव, जैसा कि नाम से पता चलता है, सिनेमा का लुत्फ उठाने और आधुनिक सिनेमाघरों से अपने छोटे बाजारों के प्रिय ग्राहकों को आनन्दित करने की कोशिश है। आज की दुनिया में अच्छे अनुभव और गुणवत्ता की मांग हर जगह है। इसलिए कई प्राथमिकताओं को शुरू करने की प्रवृत्ति को बनाए रखते हुए हमने विशेष रूप से गुणवत्ता और सुविधाओं से समझौता किए बिना सिनेमा देखने को किफायती बनाया है। उन्होंने बताया कि, आने वाले दिनों में पीवीआर ने टेनेट, इंदु की जवानी, सूरज पे मंगल भारी, ब्रेक द साइलेंस जैसी बहुप्रतीक्षित और पूर्नानुमानित फिल्मों का लोकार्पण करना शुरू कर दिया है।

पीवीआर भारत की सबसे बड़ी और सबसे प्रीमियम फिल्म प्रदर्शनी कंपनी है। 1997 में अपनी स्थापना के बाद से ब्रांड ने देश में मनोरंजन के तरीके को फिर से परिभाषित किया है। पीवीआर वर्तमान में 71 शहरों (भारत और श्रीलंका) में 175 संपत्तियों पर 835 स्क्रीन से युक्त एक सिनेमा परिपथ संचालित करता है जो सालाना 100 मिलियन से अधिक संरक्षकों की सेवा देता है। पीवीआर प्रीमियम स्क्रीन श्रेणी में प्रारूपों की एक सारणी प्रदान करता है, जो निर्देशक कट की 4 स्क्रीन, गोल्ड क्लास की 37 स्क्रीन, सफायर की 04 स्क्रीन, IMAX की 09 रक्रीन, 4DX की 18 स्क्रीन, P[XL] की 08 स्क्रीन, प्लेहाउस की 13 स्क्रीन और देशभर में पीवीआर ओनिक्स की 01 स्क्रीन।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More