Pehchan Faridabad
Know Your City

अब ऑनलाइन सुनाई देगी संस्कृति एवं पवित्र श्लोकों की गूंज,इतने हजार बच्चे एक साथ करेंगें उच्चारण

हरियाणा में अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2020 में 55 हजार स्कूली विद्यार्थी एक साथ सामूहिक रूप से पवित्र ग्रंथ गीता के 19 श्लोकों का उच्चारण करके विश्व में एक अनूठा रिकार्ड बनाएंगे। इस वैश्विक गीता पाठ का आयोजन आनलाईन प्रणाली से 25 दिसम्बर को दोपहर 12 बजे किया जाएगा। इस वैश्विक गीता पाठ में 21 जिलों से 50-50 स्कूलों के 50-50 विद्यार्थी तथा कुरुक्षेत्र जिले से 9 हजार छात्र-छात्राएं आनलाईन प्रणाली से जोडऩे की योजना बनाई गई है। इन 55 हजार विद्यार्थियों को एक सूत्र में पिरोने के लिए सोशल मीडिया, यू-टयूब चैनल या अन्य किसी माध्यम से जोड़ा जाएगा।


इस संबंध में जानकारी देते हुए शिक्षा विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि शिक्षा विभाग को इस वैश्विक गीता पाठ के लिए सभी स्कूलों से इस कार्यक्रम के साथ जोडऩे की जिम्मेवारी सौंपी गई है। इसलिए माध्यमिक शिक्षा के निदेशक ने सभी जिलों के शिक्षा अधिकारियों, जिला परियोजना समन्वयक, खंड शिक्षा अधिकारी व स्कूलों के मुखिया को पत्र लिखकर वैश्विक गीता पाठ के कार्यक्रम के साथ-साथ तैयारियां करने के लिए कहा गया है।


उन्होंने बताया कि अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2020 का आयोजन 17 दिसम्बर से 25 दिसम्बर तक किया जाएगा। इस बार कोविड-19 की गाईडलाईंस के अनुसार सभी स्कूली प्रतियोगिताएं आनलाईन करवाए जाने का निर्णय भी लिया गया है। गीता महोत्सव के सबसे अधिक आकर्षक कार्यक्रमों में से एक स्कूली विद्यार्थियों द्वारा 25 दिसम्बर को दोपहर 12 बजे होने वाले श्रीमद्भगवद गीता के श्लोकों का सामूहिक पाठ होगा।


प्रवक्ता ने बताया कि गत वर्षों में यह आयोजन कुरुक्षेत्र में सामूहिक पाठ के साथ-साथ विश्वभर में वैश्विक गीता पाठ का आयोजन होता रहा है और इस कार्यक्रम में विश्व भर में अनूठे रिकार्ड भी स्थापित किए हैं। इस वर्ष कोविड-19 के बावजूद आनलाईन प्रणाली से 55 हजार विद्यार्थियों का वैश्विक गीता पाठ अनूठा रिकार्ड बनाएगा। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में 55 हजार स्कूली विद्यार्थियों द्वारा यह पाठ अपने-अपने घरों या विद्यालयों से आनलाईन किया जाना है, जिसकी प्रस्तावित रुपरेखा के अनुसार 21 जिलों में यह कार्यक्रम करवाया जाएगा। जिला कुरुक्षेत्र द्वारा सभी जिलों को एक मॉडल पाठ की विधि यूटयूब चैनल अथवा अन्य किसी माध्यम से उपलब्ध करवाई जाएगी ताकि निर्धारित समय पर सभी जिलों में अभ्यास किया जा सके।


उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग की तरफ से आनलाईन प्रणाली से निबंध लेखन, गीता श्लोकोच्चारण, भाषण, संवाद, पेटिंग प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया जाएगा। जिलास्तर पर 11 दिसम्बर से 19 दिसम्बर तक, राज्यस्तर पर 20 दिसम्बर से 21 दिसम्बर तक इन प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा। इन प्रतियोगिताओं के नियम और अन्य शर्ते निर्धारित कर दी गई हैं और जिलास्तरीय निर्णायक मंडल का भी गठन कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि आनलाईन प्रणाली से अधिक से अधिक विद्यार्थी भाग लें।


प्रवक्ता ने बताया कि इन आनलाईन प्रतियोगिताओं में जिला व राज्य स्तर पर प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान पर आने वाले विद्यार्थियों के साथ-साथ सांत्वना पुरस्कार भी दिए जाएंगे। जिलास्तर पर प्रथम आने वाले विद्यार्थी को 2100 रुपए, द्वितीय को 1500 रुपए, तृतीय को 1000 रुपए तथा प्रत्येक श्रेणी में सांत्वना पुरस्कार के रूप में 500 रुपए की राशि दी जाएगी। उन्होंने बताया कि राज्यस्तरीय प्रतियोगिता में प्रथम आने वाले विद्यार्थी को 5100 रुपए, द्वितीय को 3100 रुपए, तृतीय को 2100 रुपए तथा प्रत्येक श्रेणी में सांत्वना पुरस्कार के रूप में 1 हजार रुपए की राशि दी जाएगी।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More