HomeLife StyleEntertainmentदिलजीत के पीछे हाथ धोकर पड़ गई कंगना, कहा देशद्रोहियों के मसीहा...

दिलजीत के पीछे हाथ धोकर पड़ गई कंगना, कहा देशद्रोहियों के मसीहा बनने की मत करो कोशिश

Published on

कंगना रनौत और दिलजीत दोसांझ के बीच हुई लड़ाई किसी से छुपी नहीं है। दोनों ने कुछ दिन पहले ट्विटर पर एक दूसरे पर किसान आंदोलन के चलते जुबानी जंग का आगाज़ किया था।

जब कंगना ने किसान आंदोलन में शरीक हुई महिला किसानों पर अभद्र टिप्पणी की थी तो दिलजीत ने क्वीन को आड़े हाथों ले लिया था। फिर ट्विटर पर दोनों ने एक दूसरे पर जमकर वार किया और एक दूसरे की खिल्ली उड़ाने में जुट गए।

दिलजीत के पीछे हाथ धोकर पड़ गई कंगना, कहा देशद्रोहियों के मसीहा बनने की मत करो कोशिश

अभी सोशल मीडिया पर दोनों की लड़ाई को लोग भूल नहीं पाए थे कि कंगना ने एक बार फिर दिलजीत के साथ लड़ाई के तार छेड़ दिए है। आपको बता दें कि कंगना ने ट्विटर पर दिलजीत को मेंशन करते हुए ट्वीट किया है।

https://twitter.com/KanganaTeam/status/1337369274969595904

शुक्रवार को कंगना ने ट्वीट करते हुए लिखा कि दिलजीत किधर गए और क्या कर रहे हैं? कंगना ने शुरुआत करते हुए लिखा कि किसानों को भड़काने के लिए लेफ्ट मीडिया दिलजीत की सराहना जरूर करेगा।

दिलजीत के पीछे हाथ धोकर पड़ गई कंगना, कहा देशद्रोहियों के मसीहा बनने की मत करो कोशिश

क्या वह देशद्रोहियों की गुड बुक्स में रहने के लिए किसानों का समर्थन कर रहे हैं ? इसके बाद कंगना ने किसानों की मुश्किलें हल करने के लिए सरकार द्वारा उठाए जा रहे कदम से जुड़े एक पोस्ट को साझा करते हुए लिखा कि कोई इसे पंजाबी में ट्रांसलेट कर के दिलजीत को समझा दे।

दिलजीत के पीछे हाथ धोकर पड़ गई कंगना, कहा देशद्रोहियों के मसीहा बनने की मत करो कोशिश

साथ ही साथ कंगना ने लिखा कि जब उन्होंने यह बात दिलजीत को समझने की कोशिश की तो वह उनसे खफा हो गए। इसी के साथ कंगना ने #diljit_kitthe_aa का भी प्रयोग किया।

इसके जवाब में दिलजीत द्वारा कंगना को एक मजेदार अंदाज में जवाब दिया है ‘सुबह उठ के जिम गया, फिर सारा दिन काम किया, अब मैं सोने लगा हूं। ये लो पढ़ लो मेरा शेड्यूल।’ फिर हैशटैग्स दिए – ‘मेरा शेड्यूल, आजा, आजा।’

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...