HomeFaridabadएक ही सड़क को दो बार खोद चुका है निगम ,खुद के...

एक ही सड़क को दो बार खोद चुका है निगम ,खुद के पैर पर मार रहा है कुल्हाड़ी

Published on

नगर निगम के कार्यों के बारे में सब बखूबी से रूबरू होंगे ।निगम के सभी वादे घर से बाहर निकलते ही पता लग जाता है कि निगम अपने वादों पर कितनी खरी उतरी है और कितनी नही ।

एक ही सड़क को दो बार खोद चुका है निगम ,खुद के पैर पर मार रहा है कुल्हाड़ी

नगरनिगम बार-बार बैठकें कर दावा करता रहा कि दिवाली तक बारिश से खराब हुई शहर की सभी सड़कें दुरुस्त कर दी जाएंगी लेकिन दीपावली का त्यौहार जाने के बाद भी शहर के इलाकों के लोग अब भी उधड़ी सड़कों की धूल खाने को मजबूर हो रहे हैं। दीपावली मेले से पहले शहर की मुख्य कॉलोनी जो तीन महीने से खराब है , ठीक करने के लिए इस सड़क को खोदा गया था परंतु अभी तक इस सड़क का कार्य अधूरा ही पड़ा है । निगम और यूआईटी ने कम समय में बला टालने की नियत से शहरभर में पेचवर्क तो किए पर व्यवस्थित नहीं होने के चलते शहरवासियों को परेशानी हो रही है। कहीं बरसात में उधड़ी सड़कों से गली-मोहल्लों के हाल खराब हैं तो कहीं पाइप-लाइनें डालने के चलते सड़कें खोदी गई थी और वहां मलबा, गड्ढे पड़े हैं।

एक ही सड़क को दो बार खोद चुका है निगम ,खुद के पैर पर मार रहा है कुल्हाड़ी

लाइनें डालने के बाद सड़कों को इस तरह ढंका गया है कि कोई वाहन उस पर से गुजरे तो आसानी से नहीं निकल सके। ऐसे में सवाल खड़ा हो रहा है कि इतनी पीड़ा और प्रदूषण झेलने के बावजूद सड़कों की मरम्मत क्यों नहीं हो सकी है। इस बारे महापौर का कहना है कि सड़क समय पर नहीं सुधरी तो कार्रवाई करने का एकमात्र विकल्प बचेगा। इनकी तनख्वाह और पैसे रोक लेंगे।

करीब 25 लाख की लागत से सड़क बनाई जानी है ।इसके ठेकेदार चंद्रसेन है ।अचंभे की बात तो यह है कि दो बार ठेकेदार इस सड़क पर पत्थर डाल चुके है और दो बार खोद चुके है ।लेकिन अब तक इस सड़क के निर्माण का कार्य पूरा नही हुआ है ।

एक ही सड़क को दो बार खोद चुका है निगम ,खुद के पैर पर मार रहा है कुल्हाड़ी

सड़क को बार बार खोदने की वजह से सड़क का ढलान नीच हो गया है जिसकी वजह से लोगो के घरों में पानी भर जाता है ।यह सड़क शहर की सबसे बड़ी मंडी को जोड़ती है ।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...