Pehchan Faridabad
Know Your City

पीएम मोदी ने की लॉक डॉउन 4.0 की घोषणा , 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का किया ऐलान ।


जैसे ही घड़ी में 8:00 बजने की दस्तक हुई पूरे देश की निगाहें टीवी स्क्रीन पर टिक गई वजह थी एक बार फिर से पीएम मोदी का देश की जनता को संबोधित करना इसमें पीएम मोदी ने जनता का उत्साहवर्धन करते हुए कुछ घोषणा की गई हैं ।

इस दौरान उन्होंने अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए विशेष आर्थिक पैकेज का भी एलान किया जिसकी विस्तार से जानकारी बाद में वित्त मंत्रालय देगा। उन्होंने कहा कि वित्त मंत्रालय और आरबीआई की ओर से घोषित पैकेज और इस पैकेज को मिलाकर ये करीब 20 लाख करोड़ रुपये होता हैं उन्होंने कहा की मियाद 17 को पूरी हो रही है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आजसएक बार फिर देश को संबोधित किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने देश के लिए आत्मनिर्भर पैकेज की घोषणा की। मोदी 20 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान किया। ये आर्थिक पैकेज, ‘‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’’ की अहम कड़ी के तौर पर काम करेगा। मोदी ने कहा कि हाल में सरकार ने कोरोना संकट से जुड़ी जो आर्थिक घोषणाएं की थीं, जो रिजर्व बैंक के फैसले थे और आज जिस आर्थिक पैकेज का ऐलान हो रहा है, उसे जोड़ दें तो ये करीब-करीब 20 लाख करोड़ रुपये का है। ये पैकेज भारत की जीडीपी का करीब-करीब 10 प्रतिशत है। इन सबके जरिए देश के विभिन्न वर्गों को, आर्थिक व्यवस्था की कड़ियों को, 20 लाख करोड़ रुपये का संबल मिलेगा, सपोर्ट मिलेगा। 20 लाख करोड़ रुपये का ये पैकेज, 2020 में देश की विकास यात्रा को,आत्मनिर्भर भारत अभियान को एक नई गति देगा। आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को सिद्ध करने के लिए,इस पैकेज में भूमि, श्रम, नकदी और कानून सभी पर बल दिया गया है। 17 मई के बाद जारी लॉकडाउन-4 की जानकारी दी जाएगी। नए रंग रूप का होगा लॉकडाउन-4 । पीएम ने आज ये भी कहा कि हमें लोकल वस्तुएं खरीदने पर ज्यादा जोर दिया। उन्होंने कहा कि ब्रांड वाली चीजंे भी पहले लोकल हुआ करती थी। उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना लंबे समय तक हमारे जीवन का हिस्सा रहेगा। आर्थिक पैकेज की पूरी जानकारी कल वितमंत्री विस्तार से देंगे।

लॉकडाउन 4.0 नए रंगरूप वाला होगा

कोरोना लंबे समय तक हमारे जीवन का हिस्सा रहेगा, लेकिन हमारी जिंदगी इसके इर्द गिर्द ही नहीं बनी रह सकती। हम सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करेंगे, मास्क पहनेंगे और काम भी करेंगे।
लॉकडाउन 4 नए रंगरूप वाला होगा, नए नियमों वाला होगा। राज्यों से जो सुझाव मिले हैं उसके मुताबिक ही इसकी जानकारी 18 मई से पहले दी जाएगी।हम कोरोना से लड़ेंगे भी और आगे भी बढ़ेंगे। कहते हैं जो हमारे वश में है, वही सुख है, आत्मनिर्भरता हमें सुख और संतोष देने के साथ सशक्त भी करेगी। आप सभी से अपील करता हूं कि अपने स्वास्थ्य का, परिवार का जरूर ध्यान रखिए।
हर देशवासी को लोकल के लिए वोकल बनना है
हर तबके के लिए आर्थिक पैकेज में महत्वपूर्ण एलान किया जाएगा।
संकट के समय में लोकल ने ही हमारी मांग पूरी की है। हमें लोकल ने ही हमें बचाया है। लोकल हमारी जरूरत ही नहीं जिम्मेदारी है।
लोकल को हमें अपना जीवन मंत्र बनाना ही होगा। लोकल से ही कोई प्रोडक्ट ग्लोबल बना है।
आज से हर देशवासी को लोकल के लिए वोकल बनना है।

पीएम ने कहा कि भारत में भी लोगों ने अपनों को खोया है. साथियों एक वायरस ने दुनिया को तहस-नहस कर दिया है. सारी दुनिया जिंदगी बचाने के लिए एक प्रकार से जंग में जुटी हुई है. हमने ऐसा संकट न देखा है, न ही सुना है. निश्चित तौर पर मानव जाति के लिए ये सबकुछ अकल्पनीय है. ये क्राइसिस अभूतपूर्व है, लेकिन थकना, हारना, टूटना, बिखरना मानव को मंजूर नहीं है. सतर्क रहते हुए, सभी नियमों का पालन करते हुए अब हमें बचना भी है और आगे बढ़ना भी है. आज जब दुनिया संकट में है, तब हमें अपना संकल्प और मजबूत करना होगा, हमारा संकल्प इस संकट से भी विराट होगा. साथियों, हम पिछली शताब्दी से भी लगातार सुनते आए हैं कि 21वीं सदी हिंदुस्तान की है. कोरोना संकट के बाद भी दुनिया में जो स्थितियां बन रही हैं, उसे भी हम निरंतर देख रहे हैं.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘आज हमारे पास साधन है, हमारे पास दुनिया का सबसे बेहतरीन टैलेंट है, हम बेस्ट प्रोडक्ट बनाएंगे. सप्लाई चेन को और आधुनिक बनाएंगे. ये हम जरूर करेंगे. मैंने अपनी आंखों के सामने कच्छ भूकंप के वो दिन देखे हैं. सबकुछ ध्वस्त हो गया था, मानो कच्छ मौत की चादर ओढकर सो गया था. कोई सोच भी नहीं सकता था कि हालात ठीक हो पाएंगे, लेकिन देखते ही देखते कच्छ उठ खड़ा हो गया. हम ठान लें तो कोई लक्ष्य मुश्किल नहीं. भारत की संकल्प शक्ति ऐसी है कि भारत आत्मनिर्भर बन सकता है.’

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More