Pehchan Faridabad
Know Your City

इतने दिनों तक बुजुर्ग पिता को भूख से तड़पाता रहा यह बेटा, फरीदाबाद पुलिस के हत्थे चढ़कर हो गई ऐसी हालत

ओपी सिंह पुलिस कमिश्नर ने कहा कि बुजुर्ग अपने परिवार और इस समाज का अहम हिस्सा हैं और उनको सम्मान अवश्य मिलना चाहिए। इसके लिए आवश्यक कारवाई अमल में लाई जाएगी। बुजर्गों का हक उन्हें दिलाया जाएगा।

पुलिस कमिश्नर ऑफिस में प्रतिदिन 30 से 40 लोग अपनी समस्याओं को लेकर सीपी के समक्ष पेश होते हैं। मंगलवार को एक बुजुर्ग व्यक्ति ओपी सिंह के सामने पेश हुए।

उन्होंने नम आंखों से कहा कि मैने अपना पूरा जिंदगी की मेहनत अपने बेटों के भविष्य बनाने में लगा दी। इसके बाद उनके बेटे व पत्नी अब न खाना खाने को देते हैं औऱ घर में रहने पर भी लड़ाई करते हैं।

सीपी ने पीड़ित बुज़ुर्ग को पहले अपने कार्यलय में भोजन कराया और फिर उन्हें बाद में काफी समझाया। उसके बाद सम्बंधित थाने के एसएचओ को मामले में पीड़ित के परिवार को समझाने के निर्देश दिए।

पुलिस के अनुसार मुजेसर के रहने वाले 66 वर्षीय लक्ष्मी नारायण अपनी पत्नी और बेटों से परेशान हैं। बुजुर्ग ने बताया कि वह यूपी के देवरिया जिले के रहने वाले हैं। उनके दो बेटे और एक बेटी है।
उन्होंने बताया कि वह महज 15 वर्ष की आयु में फरीदाबाद आ गए थे।

फरीदाबाद में उन्होंने नामी कंपिनयों में भी काम किया है। उन्होंने अपनी मेहनत के दम पर दो प्लॉट ख़रीदे जो उनके बेटो के नाम पर है। उनके दोनों बेटे रोज़ाना घर में लड़ाई करते रहते हैं।

उनके बेटे खाना खाने के लिए भी नही देते हैं। बुज़ुर्ग अपने बेटों से काफी परेशान हैं इसके चलते ही वह कमिश्नर कार्यलय आए। इसके बाद ओपी सिंह के सामने अपनी परेशानी बताई।

पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने बुज़ुर्ग की परेशानी सुनकर पहले उन्हें खाना खिलाया। ओपी सिंह ने संबंधित थाना प्रभारी को आदेश दिए कि जल्द से जल्द इस समस्या का निवारण किया जाए।

Written by -Sonali chauhan.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More