HomeLife StyleHealthआ गया कोविद का चश्मा, वायरस को आंखों से शरीर में आने...

आ गया कोविद का चश्मा, वायरस को आंखों से शरीर में आने से रोकेगा

Published on

देश में महामारी संक्रमित मरीजों की संख्‍या लगातार बढ़ रही है। जिससे लोग काफी भयभीत है। सभी लोगों को मास्क और सैनिटाइजर इस्तेमाल करने के लिए कहा जा रहा है। वहीं यह अमीर या गरीब देखकर लोगों को अपनी चपेट में नहीं ले रहा है। सोशल डिस्टेंसिंग ही इस बीमारी के बचाव का मूलमंत्र है, लेकिन पुलिस को सड़क या लोगों के बीच रहकर ड्यूटी करनी पड़ती है।

जिस वजह से अब पुलिस भी इस संक्रमण की चपेट में आने लगे हैं। एहतियातन फील्ड में रहने वाले पुलिसकर्मियों को चश्मा या फिर गोगल्स पहनकर ड्यूटी करने के निर्देश दिए गए हैं। डॉक्टरों के मुताबिक इस वायरस का संक्रमण मुंह, नाक के साथ ही आंखों से भी फैलता है। लोग मास्क से मुंह और नाक को तो ढक लेते हैं, लेकिन आंखों की सुरक्षा को लेकर अभी तक कोई पुख्ता सुरक्षा कवच नहीं है।

अब चंडीगढ़ स्थित केंद्रीय वैज्ञानिक उपकरण संगठन(CSIO) ने आंखों के जरिए कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए ख़ास सेफ्टी गॉगल्स (चश्मे) तैयार किए हैं। जो कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ रहे स्वास्थ्यकर्मियों, पुलिस, सफाई कर्मचारियों और आम लोगों को संक्रमण से बचाने में मददगार हो सकता है। आपको बता दे कि कोरोना वायरस के कारण मरीज को आइ फ्लू भी हो सकता है।

इससे बचाव के लिए अमरीकन एकडमी ऑफ आप्थमोलॉजी की ओर एक गाइडलाइन जारी कर कुछ सावधानियां बरतने की सलाह दी है। इसमें कहा गया है कि जो बाहर निकल रहे हैं तो नाक-मुंह के साथ आंखों को ठक कर रखें। बाहर निकलते समय सनग्लास कोई दूसरा चश्मा जरूर लगाएं। ग्लूकोमा या मोतियाबिंद की लंबी चलने वाली दवाइयां का स्टॉक घर में कर लें।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...