HomeCrimeजेबीटी भर्ती घोटाला: पूरी होने को है चौटाला की सजा, अब इन...

जेबीटी भर्ती घोटाला: पूरी होने को है चौटाला की सजा, अब इन बड़े अफसरों की आएगी आफत

Published on

राजनीति में बड़े-बड़े नेताओं और दिग्गजों पर घोटाले के आरोप लगने जैसे आम बात हो गई हो। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला पर भी जेबीटी भर्ती घोटाला का आरोप लगा जिसके चलते उन्हें जेल की हवा खानी पड़ी। यह मामला सन 1999-2000 में शुरू हुआ जब 3206 जेबीटी की भर्ती में अनियमितताओं को लेकर कोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी। 13 साल तक सीबीआई कोर्ट में चला यह मामला जब निर्णय पर पहुंचा तो कोर्ट ने ओमप्रकाश चौटाला समेत उनके बेटे अजय चौटाला को 10 साल की सजा सुना दी। साथ ही कुछ विभागीय अधिकारियों को जुर्माना व दो-दो साल की सजा सुनाई गई।

जेबीटी भर्ती घोटाला: पूरी होने को है चौटाला की सजा, अब इन बड़े अफसरों की आएगी आफत

बता दें कि जिस जेबीटी भर्ती घोटाले में हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला व उनके बेटे अजय चौटाला को जेल की सजा सुनाई गई थी वह अब पूरी होने वाली है। चौटाला और उनके बेटे के लिए तो यह बेहद खुशी की खबर है पर उसी मामले में आरोपी शिक्षा विभाग के 48 सेवानिवृत्त अधिकारियों के लिए अब मुश्किल समय शुरू होने वाला है क्योंकि अब शिक्षा विभाग के इन 48 अधिकारियों पर सरकार ने कार्यवाही की तलवार लटक रही है।

जेबीटी भर्ती घोटाला: पूरी होने को है चौटाला की सजा, अब इन बड़े अफसरों की आएगी आफत

बता दें कि जॉइंट, डिप्टी व असिस्टेंट डायरेक्टर से लेकर प्रिंसिपल तक रहे इन अफसरों की विभाग ने अब पेंशन र रोक दी है। जिन अधिकारियों की पेंशनरों की गई है उनमें ज्यादातर जिला स्तरीय सिलेक्शन कमेटी के चेयरमैन व सदस्य के पद पर रह चुके अधिकारी हैं। ऐसे में सीबीआई कोर्ट ने इन्हें भी घोटाले का दोषी माना था।

जेबीटी भर्ती घोटाला: पूरी होने को है चौटाला की सजा, अब इन बड़े अफसरों की आएगी आफत

दरअसल विभाग की ओर से जिला प्राइमरी एजुकेशन ऑफिसर को जिला स्तरीय कमेटियों का चेयरमैन व बीसी को प्रिंसिपल आदि को सदस्य बनाया गया था। एससीएस महावीर का कहना है कि पेंशन रोकने का निर्णय कोर्ट के आदेश पर ही लिया गया है। जिन तत्कालीन अधिकारियों की पेंशनरों की गई है उनकी सूची कुछ इस प्रकार है।

जेबीटी भर्ती घोटाला: पूरी होने को है चौटाला की सजा, अब इन बड़े अफसरों की आएगी आफत

अजीत सिंह सांगवान, जॉइंट डायरेक्टर
सुधा सचदेवा, जॉइंट डायरेक्टर
राजेंद्र सिंह दहिया, जॉइंट डायरेक्टर
नारायण सिंह रूहेल, डिप्टी डायरेक्टर
शीशपाल सिंह, डिप्टी डायरेक्टर
राजेंद्र पाल सिंह, डिप्टी डायरेक्टर
दर्शन दयाल वर्मा, डिप्टी डायरेक्टर
कांता शर्मा, डिप्टी डायरेक्टर
दया सैनी, असिस्टेंट डायरेक्टर, प्राइमरी एजुकेशन
जोगेंद्र पाल, बीईओ, यमुनानगर
शशि मल्होत्रा, प्रिंसिपल, जीएसएसएसएस, अम्बाला
मामन चंद, बीईओ, भिवानी-2
ब्राह्मानंद, डीपीईओ, भिवानी
कृष्णा गुप्ता, एक्स, बीईओ, अम्बाला-2
विनोद कुमारी, प्रिंसिपल, जीएसएसएसएस, भिवानी
हरबंस लाल, डीपीईओ, फरीदाबाद
फूल खुराना, बीईओ, भूना-फतेहाबाद
रामशरण कुकरेजा, डीपीईओ, फरीदाबाद
प्रेम बहल, डीपीईओ, अम्बाला
सवन लाल, बीईओ, भिवानी
चांदसिंह वर्मा, डीपीईओ, गुड़गांव
अभिलाष कौर, बीईओ, गुड़गांव
अनार सिंह, डिप्टी, डीईओ, झज्जर
योगेश कुमार शर्मा, डिप्टी,डीईओ, गुड़गांव
दिलबाग सिंह, डीपीईओ, कैथल
वीरभान मेहता, डिप्टी डीईओ, कुरुक्षेत्र
मदनलाल कालरा, डीपीईओ, कुरुक्षेत्र
ऊषा रानी, डीईओ, करनाल
महावीर सिंह लाठर, बीईओ, जींद
कृष्ण लाल नारंग, डिप्टी डीईओ, करनाल
रामकौर, डिप्टी डीईओ, जींद
कैलाश कौशिक, डीईओ, झज्जर
रेखा शर्मा, बीईओ, पंचकूला
रक्षा जिंदल, एक्स प्रिंसिपल, जीएसएसएसएस पंचकूला
पुष्करमल, बीपीईओ, नारनौल
बानी सिंह, बीईओ, नारनौल
रामसिंह, डिप्टी डीईओ, पानीपत
दुर्गादत्त प्रधान, प्रिंसिपल, जीएसएसएसएस नारनौल
शेर सिंह, डीपीईओ, झज्जर
अमर सिंह, डिप्टी डीईओ,रोहतक
निर्मल देवी, डिप्टी डीईओ, रोहतक

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...