HomeIndiaआपदा को अवसर में बदला, लॉकडाउन में बना घर जमाई और फिर...

आपदा को अवसर में बदला, लॉकडाउन में बना घर जमाई और फिर साली के साथ हुआ फरार

Published on

लॉकडाउन में बना घर जमाई और फिर साली के साथ हुआ फरार :- संबंधों को तार-तार करने वाली खबर सामने आई और यह खबर मध्य प्रदेश के विदिशा जिले से सामने आई है। दरअसल कोविड-19 वक्त में जब लोग घर से बेघर हो रहे थे, लोग परेशान हो रहे थे,

एक राज्य से दूसरे राज्य में जा रहे थे तो नटेरन के पमारिया गांव की रहने वाली रिंकी नाम की महिला का पति भी परेशान था उसका काम छूट गया था। इसी कारण उसे अपने ससुराल में पनाह मिल गया लेकिन इस पनाह का उसने सही इस्तेमाल नहीं बल्कि बेजा इस्तेमाल किया, गलत रास्ता अख्तियार किया और अपनी साली से ही प्रेम कर बैठा।

लॉकडाउन में बना घर जमाई और फिर साली के साथ हुआ फरार

अक्सर खबर के मुताबिक ये बातें निकल कर सामने आई कि घर जमाई अपनी धर्मपत्नी रिंकी के साथ गलत व्यवहार करता था। उसके साथ मारपीट करता था और अपनी साली के साथ उसका प्रेम प्रसंग चल रहा था।

घर जमाई हुआ फरार

हालांकि जब इस बारे में यानी घर जमाई की धर्मपत्नी को पता चला तो उन्होंने जब इस बात को उठाया और रिंकी को दबाते हुए कहा कि साली तो मेरी बहन जैसी है। कुछ दिनों के बाद पता लगा कि युवक अपनी साली को ही लेकर मौके से फरार हो गया।

लॉकडाउन में बना घर जमाई और फिर साली के साथ हुआ फरार

अब इस पूरे मामले की जानकारी स्थानीय थाने को दी गई तो पुलिस ने आरोपी जीजा को गिरफ्तार कर लिया। इसी बीच यह भी जानकारी निकलकर सामने आई की साली ने जहर खा लिया जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया।

तमाम मामलों को लेकर पुलिस ने दोनों पक्षों के बीच बातचीत करवाई और इसमें यह भी निकल कर सामने आया कि पति अपनी साली से कोई संबंध नहीं रखेगा।

लॉकडाउन में बना घर जमाई और फिर साली के साथ हुआ फरार

इस तरह से संबंध निभाने के बाद, सात जन्मों की कसमें खाने की बात जब किसी रिश्ते को बनाने के समय, जब किसी शादी में कहीं जाती हैं तो उन संबंधों उन वचनों को सुनकर देखकर यही समझ में आता है कि रिश्ते बड़ी ही पाक होते हैं।

जब इन रिश्तों को तार-तार करने की कुछ ऐसी ही घटनाएं निकल कर सामने आती हैं जिस घटना को आप अभी पढ़ रहे हैं तो इन संबंधों से न सिर्फ विश्वास उठ जाता है बल्कि मन में कई और भी सवाल पैदा होते हैं। सवाल कुछ इस तरह के होते हैं कि जब आप अपनों के बीच में रहकर विश्वासघात करते हैं तो आप दूसरों पर विश्वास कैसे कर सकेंगे।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...