HomeFaridabad2020 में पहले सुशांत को खोया और अब उनके पिता के साथ...

2020 में पहले सुशांत को खोया और अब उनके पिता के साथ हुआ ये…

Published on

दिवंगत बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के परिवार ने अपने बेटे के इंसाफ के लिए हर दरवाज़ा खटखटाया पर अभी तक पिता और बहनों को निराशा ही हाथ लगी। परिवार की परेशानियां ख़त्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। पहले बहनों ने अपने इकलौते भाई को खोया और अब पिता की तबियत खराब होने से परिवार का सुख-चैन छिन गया है।

2020 में पहले सुशांत को खोया और अब उनके पिता के साथ हुआ ये…

पहले ही परिवार का कानूनी व्यवस्था और कोर्ट की प्रणाली से विशवास उठ गया था पर अब नियति को कुछ और ही पसंद है। बेटे की मौत के बाद परेशानियों और दुख के सागर में पहले ही सिंह परिवार की कश्ती गोते खा रही थी और अब सुशांत के पिता के.के सिंह बीमार हो गए हैं। सुशांत के पिता के.के सिंह इन दिनों अपनी बड़ी बेटी रेनू और दामाद ओ.पी सिंह के फरीदाबाद स्थित निवास पर रहे हैं।

2020 में पहले सुशांत को खोया और अब उनके पिता के साथ हुआ ये…

तबियत में आयी अचानक तबदीली से बेटी रेनू ने बिना किसी लापरवाही बरते, उनको तुरंत अस्पताल में भर्ती करवा दिया। इस समय फरीदाबाद के एशियन अस्पताल में भर्ती हैं। सभी डॉक्टर्स उनका खास खयाल रख रहे हैं। वहीं दूसरी ओर सुशांत के फैंस पहले उनके इंसाफ की लड़ाई लड़ रहे थे और अब उनके पिता की सलामती और जल्द ठीक होने की दुआएं कर रहे हैं।

2020 में पहले सुशांत को खोया और अब उनके पिता के साथ हुआ ये…

बता दें कि अभी भी सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लेकर असमंजस बरकरार है और शायद यही वजह है कि उनके फैंस भी काफी निराश हैं। पहले सुशांत के फैंस को इंसाफ की उम्मीद थी और पूरे मामले ने तूल पकड़ा हुआ था पर अब मामले में ढिलाई के कारण इंसाफ में देरी हो रही है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...