HomeUncategorizedइमरजेंसी में 100 की जगह डायल कीजिए 112, जानिए क्या मिलेगी सुविधा

इमरजेंसी में 100 की जगह डायल कीजिए 112, जानिए क्या मिलेगी सुविधा

Published on

इमरजेंसी में 100 की जगह डायल कीजिए 112 :- ईआरएसएस यानी कि इमरजेंसी रिस्पांस स्पोर्ट्स इन सर्विस एक महत्वपूर्ण योजना है। इसका ताजा उदाहरण अमेरिका में चालू हुए 911 नंबर से लिया जा सकता है। अब ऐसे ही योजना भारत में भी लागू की जानी है और यह नंबर होगा 112 ।

आगामी 26 जनवरी को इसकी शुरुआत गुड़गांव में पंचकूला जिले में कर दी जाएगी। वही अन्य जिलों पर भी इसकी शुरुआत तेजी से की जाएगी। जानकारी के मुताबिक उक्त योजना को प्रदेश के सभी जिलों में 31 मार्च तक लागू करने की योजना तैयार की जा चुकी है।

यह बात शनिवार को आरटीसी भोंडसी के दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे डीजीपी मनोज यादव ने कही। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि इसके लिए पंचकूला के सेक्टर-3 में 154 करोड़ रुपए में मॉडर्न कंट्रोल रूम बनाया जा रहा है।

उन्होंने यह भी बताया कि मेडिकल इमरजेंसी हो या फिर फायर और पुलिस की, किसी भी इमरजेंसी के लिए 112 नंबर पर कॉल करनी होगी। तीन रिंग में फोन उठाना होगा।

100 की जगह डायल कीजिए 112

उन्होंने बताया कि इसके बाद जो व्यक्ति फोन पर होगा उसका लोकेशन कंप्यूटर पर आने लगेगा। इसके बाद 15 मिनट में शहरी क्षेत्र में जबकि 20 मिनट में ग्रामीण क्षेत्र में लोगों को सहायता दी जाएगी। हर थाने में दो नई गाड़ियां भी उपलब्ध करवाई जाएगी। राउंड द क्लॉक ड्यूटी पर रहेंगी। गाड़ी का मूवमेंट भी जीपीएस के माध्यम से लोकेशन देखी जा सकेगी। स्टाफ को भी विशेष ट्रेनिंग दी जाएगी।

100 की जगह डायल कीजिए 112

पहले परेड पर व वैपन चलाने पर ज्यादा ध्यान दिया जाता था। लेकिन अब सॉफ्ट स्किल ट्रेनिंग दी जा रही है। पुलिस के पास कोई आता है तो परेशानी में आता है। कई बार पुलिस के खिलाफ जनक्रोश होता है तो वह व्यवहार को लेकर होता है।

वही सबसे महत्वपूर्ण महिलाओं के विरुद्ध अपराधों को लेकर पुलिस को विशेष ट्रेनिंग दी जा रही है। कहीं आपको नहीं मिलेगी, जिसमें महिला कहे कि उसकी एफआईआर दर्ज नहीं की गई। दूसरी बात है कि उसकी जल्द जांच पूरी की जाए। भारत सरकार एक पोर्टल चलाती है, इंटीग्रेटिड ट्रे्किंग सिस्टम फोर सैक्सुअल ओफेंसिस।

100 की जगह डायल कीजिए 112
100 की जगह डायल कीजिए 112

इस पर हरियाणा पांचवें स्थान पर है, जिनमें कई छोटे राज्य है, जिनमें पांडिचेरी व गोवा आदि शामिल हैं। बड़े राज्यों में दिल्ली के बाद दूसरे नंबर पर हरियाणा पुलिस है, जो महिलाओं के विरुध होने वाले अपराधों में कार्रवाई कर रही है।

उच्च शिक्षा प्राप्त 443 नए पुलिस कर्मियों ने ली पद एवं गोपनीयता की शपथ| शनिवार को पुलिस प्रशिक्षण एवं अनुसंधान केन्द्र भोंडसी में दीक्षान्त परेड स्थल पर मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचकर हरियाणा के पुलिस महानिदेशक मनोज यादव ने उच्च शिक्षा प्राप्त 443 सिपाहियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई।

इस समारोह में हरियाणा पुलिस एकादमी मधुबन की 98 महिला सिपाही व पुलिस ट्रेनिंग सैंटर भोंडसी के 345 पुरूष सिपाही शामिल रहे। इस बैच में उच्च शिक्षित युवा भर्ती हुए हैं, इनमें से ज्यादातर युवा सिपाही बी टैक, एम.टैक, एमसीए, एमबीए, बीसीए, बीकॉम पास शामिल हैं। मनोज यादव ने बताया कि इनके हेडकांस्टेबल बनने के बाद साइबर क्राइम की ट्रेनिंग दी जाएगी।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...