HomeInternationalदुनिया को अलविदा कहते हुए बुजुर्ग महिला पड़ोसियों को बना गई करोड़पति,...

दुनिया को अलविदा कहते हुए बुजुर्ग महिला पड़ोसियों को बना गई करोड़पति, छोड़ी 55 करोड़ की संपत्ति

Published on

हम जिस पड़ोस में रहते हैं उस पड़ोस में हमारा व्यवहार हमारा चाल चलन हमारी भाषा हमारी शैली सब बहुत मायने रखती है बहुत महत्व रखती है क्योंकि पड़ोस भी हमारे परिवार के जैसा ही होता है हमारा पड़ोस हमारा परिवार हमारा समाज यह सब चीजें ही मिलकर एक देश का रूप लेता है और जिस देश में समाज अच्छा हो पड़ोस अच्छा हो तो सब कुछ अच्छा अच्छा ही नजर आता है।

इसी के मद्देनजर हम आपको एक ऐसी जानकारी इस खबर के माध्यम से देने जा रहे हैं जिस खबर को पढ़कर आप भी अपने व्यवहार में परिवर्तन जरूर लेकर आएंगे आप जहां कहीं भी रहने वाले हो जहां भी रहते हो अगर आपका व्यवहार अपने पड़ोसियों के साथ बेहतर है अच्छा है सुगम ।

दुनिया को अलविदा कहते हुए बुजुर्ग महिला पड़ोसियों को बना गई करोड़पति, छोड़ी 55 करोड़ की संपत्ति

तो यकीन मानिए आपको कहीं कोई किसी भी तरह की परेशानी नहीं आएगी और कई बार तो ऐसा भी देखा गया है कि आपके संबंध इतने मजबूत हो जाते हैं प्रगाढ़ संबंधों की वजह से आप दूसरों के दिलों में बेहद जबरदस्त जगह बना लेते हैं और उसी वजह से वह भी अपने हो जाते वह भी अपने हो जाते हैं क्योंकि हमारे और आपके हमारे और आपके व्यवहार पर ही निर्भर करता है।

आपको बता दे कि जर्मनी में रेनेट वेडेल नाम की बुजुर्ग महिला ने अपने पड़ोसियों को रातों रात करोड़पति बना दिया। बुजुर्ग महिला ने मरने से पहले अपने पडोसी के नाम 7.5 मिलियन डॉलर यानि 55.35 करोड़ रुपये की संपत्ति कर दी है। अब इस महिला ने यह पूरी प्रॉपर्टी अब अपने पड़ोसियों के नाम दर्ज करवा दी है। रेनेट नाम की इस महिला की कहें तो तो ये एक शादीशुदा औरत थी जिसके पति का नाम अल्फ्रेड वीडेल था और अपने अपने पति के साथ ही ये वाइपरफेल्डेन में रहती थी।

दुनिया को अलविदा कहते हुए बुजुर्ग महिला पड़ोसियों को बना गई करोड़पति, छोड़ी 55 करोड़ की संपत्ति

इनके पति अल्फ्रेड वेडेल एक स्टॉक एक्सचेंज में लगे हुए बिजनेसमैन थे। साल 2014 में इनके पति की मौत हो गयी। इसके बाद काफी वक्त तक रेनेट अकेली ही रही और फिर धीरे धीरे इनकी तबियत बिगडती नजर आने लगी। बता देरेनेट के पास बैंक बैलेंस, शेयर और कीमती सामान की एक वसीयत थी जिसकी असली वारिस उनकी बहन थीं, लेकिन रेनेट की बहन की मौत उनसे पहले ही हो चुकी थी।

दरअसल रेनेट नें दुनिया से अलविदा लेने से पहले अपने पीछे अपनी एक वसीयत बना रखी थी जिसमें उन्होंने अपनी पूरी संपत्ति का ब्यौरा किया है। रेनेट नें यह बात साफ़ लिखी है के वो इनकी इस संपत्ति को कभी भी नीजी या व्यक्तिगत कार्यों के लिए इस्तेमाल नहीं करेंगे।

दुनिया को अलविदा कहते हुए बुजुर्ग महिला पड़ोसियों को बना गई करोड़पति, छोड़ी 55 करोड़ की संपत्ति

बल्कि वो इससे सामुदायिक और अन्य सामाजिक जगहों पर उनकी इस प्रॉपर्टी का इस्तेमाल करेंगे। और ऐसा करने के लिए इनके पडोसी अब कानूनन बाध्य हैं।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...