HomeFaridabadग्राम पंचायतों की सीमा में बिजली बिल पर दो प्रतिशत की दर...

ग्राम पंचायतों की सीमा में बिजली बिल पर दो प्रतिशत की दर से पंचायत टैक्स लगाने का निर्णय किसान विरोधी: अभय सिंह चौटाला

Published on

इंडियन नेशनल लोकदल के प्रधान महासचिव एवं विधायक अभय सिंह चौटाला ने बुधवार को एक बयान जारी कर कहा कि मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमण्डल की बैठक में ग्राम पचायतों के वित्तीय संसाधनों को बढ़ाने के लिए राज्य में ग्राम पंचायतों की सीमा के भीतर किसी भी उपभोक्ता द्वारा की गई खपत के लिए बिजली के बिल पर दो प्रतिशत की दर से पंचायत कर लगाने का निर्णय किसान विरोधी फैसला है। उन्होंने कहा कि किसान आज भाजपा सरकार के खिलाफ सडक़ों पर अपने अस्तित्व को बचाने की लड़ाई लड़ रहा है जिस कारण अभी तक लगभग 35 किसान शहीद हो चुके हैं।

ग्राम पंचायतों की सीमा में बिजली बिल पर दो प्रतिशत की दर से पंचायत टैक्स लगाने का निर्णय किसान विरोधी: अभय सिंह चौटाला


इनेलो नेता ने कहा कि भाजपा की कथनी और करनी में दिन-रात का अंतर है। भाजपा के यही नेता हैं जो किसानों के कर्जे माफ करवाने और स्वामीनाथन की रिपोर्ट लागू करवाने के लिए कपड़े उतार कर प्रदर्शन करते थे और आज अन्नदाता की दुर्गती करने पर उतारू हैं।

देश और प्रदेश की भाजपा सरकार कैसे किसान से उसकी जमीन छीनी जाए और उसी जमीन पर मजदूर बनाया जाए, उसके लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है। उन्होंने कहा कि जहां एक तरफ तो प्रदेश की भाजपा गठबंधन सरकार किसान हितैषी होने के दावे कर रही है वहीं दूसरी ओर किसानों को बर्बाद करने के लिए लगातार किसान विरोधी फैसले ले रही है।

ग्राम पंचायतों की सीमा में बिजली बिल पर दो प्रतिशत की दर से पंचायत टैक्स लगाने का निर्णय किसान विरोधी: अभय सिंह चौटाला


उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में जब देश की जीडीपी माइनस में चली गई थी तब केवल एकमात्र अन्नदाता ही था जिसने खून पसीना एक कर कृषि विकास दर में 3.4 प्रतिशत की वृद्धि कर उसे जिंदा रखा और देश को खुशहाल बनाए रखा।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...