HomeFaridabadजेल के कैदी बनेंगे रेडियो जॉकी, नीमका जेल में खुलेगा कैदियों का...

जेल के कैदी बनेंगे रेडियो जॉकी, नीमका जेल में खुलेगा कैदियों का रेडियो स्टेशन

Published on

स्मार्ट सिटी की जेल में कैद तमाम कैदी भी काफी स्मार्ट हो चुके हैं। फरीदाबाद की नीमका जेल में एक अजब गजब मुहीम चल रही है। जेल के अंदर कैदियों के मनोरंजन के लिए जेल रेडियो की शुरुआत की गई है। इसको लेकर जेल में बंद महिला कैदी रेडियो प्रोग्राम की तरफ अपना रुझान दिखा रही हैं।

हर कोई इस मुहीम में बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले रहा है और सभी काम भी कर रहे हैं। नीमका जेल में ऑनलाइन चल रही कार्यशाला में महिला बंदियों को कई सुझाव भी दिए गए हैं। नीमका जेल में चल रही इस मुहीम का आयोजन दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा किया गया है।

जेल के कैदी बनेंगे रेडियो जॉकी, नीमका जेल में खुलेगा कैदियों का रेडियो स्टेशन

राजधानी के लेडी श्रीराम कॉलेज द्वारा इस मुहीम को शुरू किया गया है। कॉलेज के पत्रकारिता विभाग द्वारा इस कवायद को शुरू किया गया है। इस मुहीम को आगे बढ़ाने का बीड़ा वर्तिका नंदा द्वारा उठाया गया है जो तिनका तिनका फाउंडेशन की अध्यक्षा भी हैं। आपको बता दें कि वर्तिका ऑनलाइन माध्यम से सभी महिला कैदियों को रेडियो का प्रशिक्षण दे रही हैं।

जेल के कैदी बनेंगे रेडियो जॉकी, नीमका जेल में खुलेगा कैदियों का रेडियो स्टेशन

वह तमाम महिला कैदियों को समझा रही हैं कि कैसे रेडिओ में काम कैसे किया जाता है। जितनी भी महिला कैदी इस प्रोग्राम का हिस्सा हैं वह अपने अपने तरीके से कार्यक्रम के नाम सोच रही हैं और खुद के साथ साथ अन्य लोगों का भी मनोरंजन कर रही हैं।

जेल के कैदी बनेंगे रेडियो जॉकी, नीमका जेल में खुलेगा कैदियों का रेडियो स्टेशन

बंदियों ने बच्चों के लिए होने वाले कार्यकम को एक ख़ास नाम दिया है। तारे ज़मीन नाम का एक कार्यक्रम बनाया गया है जिसमे बच्चों से जुड़े प्रोग्राम बनाए गए हैं। साथ ही साथ तमाम महिला कैदियों ने अपने खाने के शौक को भी एक रोचक रेडियो प्रोग्राम के अंदाज में रेडियो पर उठाने की ठानी है।

जेल के कैदी बनेंगे रेडियो जॉकी, नीमका जेल में खुलेगा कैदियों का रेडियो स्टेशन

रसोई से जुड़े इस शो के नाम के लिए उन्होंने अपना किचन नाम के प्रोग्राम का सुझाव सामने रखा है। इसी के साथ सभी बंदियों के भीतर छिपे कलाकार को भी ढूंढ़ने कोशिश की जा रही है। जेल में एक ख़ास तरीके की धुन भी बजेगी जिसे महिला कैदियों द्वारा तैयार किया जाएगा। बाद में धुन को लेकर महिला कैदियों के बीच में एक प्रतियोगिता रखी जाएगी।

आपको बता दें कि वर्तिका ने सभी कैदियों के साथ प्रेरक कहानियां साझा की हैं। इस दौरान उन्होंने जेल के कैदियों को समझाया कि कैसे वह अपना जीवन बदल सकते हैं और लोगों को प्रेरित कर सकते हैं। बता दें कि कार्यशाला के बाद जेल रेडियो को शुरू किया जाएगा। इससे सभी बंदियों का मनोरंजन किया जा सकता है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...