HomeFaridabadसाल नहीं बवाल रहा 2020, इन बड़े कारणों से पूरे साल मीडिया...

साल नहीं बवाल रहा 2020, इन बड़े कारणों से पूरे साल मीडिया में छाया रहा फरीदाबाद

Published on

2020 साल नहीं बवाल रहा। साल की शुरुआत में ही एक ऐसे बिन बुलाए मेहमान ने भारत का दरवाजा खटखटाया जिसने हर किसी को अपने अपने घरौंदों में कैद कर दिया। महामारी के दौर में जब हर कोई अपने अपने घरों में सुरक्षित था तब मजबूर होकर मजदूरों को बाहर निकलना पड़ा।

सड़कों ने इस समय पर एक कंपन महसूस की। खाली सड़कें थरथरा रही थीं और स्वागत कर रही थी मजदूरों का। ऐसे में मेरे स्मार्ट सिटी में भी मजदूरों के पघ पड़े। 2020 फरीदाबाद के लिए खास रहा ऐसे बहुत सारे दिन और मौके रहे जब मैं पूरे भारत में चर्चा का मुद्दा बन गया।

विकास दुबे आगमन

साल नहीं बवाल रहा 2020, इन बड़े कारणों से पूरे साल मीडिया में छाया रहा फरीदाबाद

इस साल मेरी चौखट पर एक गैंगस्टर ने दरवाजा खटखटाया। एक गैंगस्टर जिसने पूरे मीडिया में अपने नाम का हल्ला मचाया हुआ था। उस गैंगस्टर का नाम था विकास दुबे। जब देश मे उसे कहीं भी अपना सिर छिपाने की जगह नहीं मिली तब उसने मेरे प्रांगण में अपने कदम रखे।

साल नहीं बवाल रहा 2020, इन बड़े कारणों से पूरे साल मीडिया में छाया रहा फरीदाबाद

आलम यह था कि विकास के स्मार्ट सिटी में आने के बाद फरीदाबाद पूरे भारत में चर्चा का विषय बन गया। पूरे देश के मीडिया की नजर सिर्फ स्मार्ट सिटी पर ही थी। हर तरफ फरीदाबाद नाम का हू हल्ला मचा हुआ था।

सुशांत सिंह राजपूत मामला

साल नहीं बवाल रहा 2020, इन बड़े कारणों से पूरे साल मीडिया में छाया रहा फरीदाबाद

14 जून 2020, एक ऐसी तारीख जिसने सिनेमा जगत के साथ पूरे देश और दुनिया को हिला कर रख दिया। एक अभिनेता, एक कलाकार की मौत ने उसके चाहने वालों के दिलों को हमेशा के लिए कसकते हुए छोड़ दिया। सुशांत सिंह राजपूत एक नायाब सितारा जो हमेशा के लिए इस दुनिया को छोड़ कर जा चुका है। पर हैरान करने वाली बात यह रही कि अभिनेता की मौत के तार फरीदाबाद से जुड़ गए।

साल नहीं बवाल रहा 2020, इन बड़े कारणों से पूरे साल मीडिया में छाया रहा फरीदाबाद

इसके तीन अहम कारण हो सकते हैं, सबसे पहला कारण है क्षेत्र के पुलिस आयुक्त ओपी सिंह सुशांत के जीजा हैं जिसके चलते मीडिया के चक्कर बार बार स्मार्ट सिटी में लगते रहे। दूसरा बड़ा कारण बने सुशांत के पिता के के सिंह जो अपनी बड़ी बेटी रानी के साथ स्मार्ट सिटी में रहने के लिए आ गए।

उनसे मिलने के लिए आए दिन बड़े मंत्रियों, राजनेताओं और समाज सेवियों के बीच होड़ लगी रहती थी। तीसरा और सबसे बड़ा कारण थी फरीदाबाद की निवासी अंजनी धवन। फरीदाबाद की इस लड़की के सुशांत केस में नाम आने के बाद हर बड़ा मीडिया चैनल क्षेत्र के चक्कर काटता रहा।

निकिता हत्याकांड

साल नहीं बवाल रहा 2020, इन बड़े कारणों से पूरे साल मीडिया में छाया रहा फरीदाबाद

बल्लभगढ़ की एक लड़की जिसकी मौत ने पूरे देश को झगझोड़ कर रख दिया। उस लड़की का नाम था निकिता तोमर, अग्गरवाल कॉलेज की छात्रा जिसने अपनी आँखों में उज्जवल भविष्य के सपने सजाए हुए थे। पर अब उन सपनों का ना कोई वर्तमान है ना कोई भविष्य। जब तौसिफ ने निकिता को गोली मारी थी तब पूरे फरीदाबाद का दिल दहल गया था।

साल नहीं बवाल रहा 2020, इन बड़े कारणों से पूरे साल मीडिया में छाया रहा फरीदाबाद

निकिता की मौत के बाद जो हुआ उससे कोई भी अनभिज्ञ नहीं है। निकिता के इंसाफ की लड़ाई के लिए जब हर कोई सड़क पर उतरा तब हर किसी की नजर फरीदाबाद पर थी। निकिता के परिवार को अभी तक इंसाफ की दरकार है।

राहुल तेवतिया का धमाकेदार खेल प्रदर्शन

साल नहीं बवाल रहा 2020, इन बड़े कारणों से पूरे साल मीडिया में छाया रहा फरीदाबाद

फरीदाबाद का एक लाल जिसके बेमिसाल प्रदर्शन ने पूरे देश में उसकी तूती बुलवाई। खिलाड़ी राहुल तेवतिया के आईपीएल में शानदार प्रदर्शन के बाद हर कोई उनका कायल हो गया। राहुल पर हर किसी की नजर थी और साथ ही साथ उनके फरीदाबाद के होने का बोलबाला भी रहा। तेवतिया ने जिले को अपने नाम से चमका दिया।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...