HomeFaridabadसूरजकुंड ने खुशियां फैलाई तो कहीं लड़ी गई निकिता के इंसाफ की...

सूरजकुंड ने खुशियां फैलाई तो कहीं लड़ी गई निकिता के इंसाफ की लड़ाई, 10 तस्वीरों में छिपी है फरीदाबाद की कहानी

Published on

साल 2020 अपने पीछे यादों का पिटारा छोड़ता हुआ जा रहा है। यादें कुछ खट्टी और कुछ यादें ऐसी भी हैं जिन्होंने इंसानियत पर किये जाने वाले विश्वास को और अटल बनाया। खट्टी मीठी यादों से भरा वर्ष 2020 एक साल नहीं बवाल है।

बात की जाए स्मार्ट सिटी फरीदाबाद की तो पूरे साल स्मार्ट सिटी ने मौसम के साथ जनता, आवाम और आलाकमान हर किसी को रंग बदलते देखा। जब बात हो फरीदाबाद की यादों की तो उन्हें पहचान फरीदाबाद ने हमेशा अपने चश्मे में उतार कर देखा है। साल भर की यादों का लिखा जोखा…….

सूरजकुंड में सजा खुशियों का रंग

सूरजकुंड ने खुशियां फैलाई तो कहीं लड़ी गई निकिता के इंसाफ की लड़ाई, 10 तस्वीरों में छिपी है फरीदाबाद की कहानी

जब भारत में आया बिन बुलाया मेहमान

सूरजकुंड ने खुशियां फैलाई तो कहीं लड़ी गई निकिता के इंसाफ की लड़ाई, 10 तस्वीरों में छिपी है फरीदाबाद की कहानी

मेहमान से निपटते आलाकमान

सूरजकुंड ने खुशियां फैलाई तो कहीं लड़ी गई निकिता के इंसाफ की लड़ाई, 10 तस्वीरों में छिपी है फरीदाबाद की कहानी

सड़कों पर आए मजबूर हुए मजदूर

सूरजकुंड ने खुशियां फैलाई तो कहीं लड़ी गई निकिता के इंसाफ की लड़ाई, 10 तस्वीरों में छिपी है फरीदाबाद की कहानी

जब जोड़ा इंसानियत से नाता

सूरजकुंड ने खुशियां फैलाई तो कहीं लड़ी गई निकिता के इंसाफ की लड़ाई, 10 तस्वीरों में छिपी है फरीदाबाद की कहानी

बारिश में सड़कें बनी तालाब

सूरजकुंड ने खुशियां फैलाई तो कहीं लड़ी गई निकिता के इंसाफ की लड़ाई, 10 तस्वीरों में छिपी है फरीदाबाद की कहानी

आँखों के आगे गिरते रहे सपनों से भरे मकान

सूरजकुंड ने खुशियां फैलाई तो कहीं लड़ी गई निकिता के इंसाफ की लड़ाई, 10 तस्वीरों में छिपी है फरीदाबाद की कहानी

एक बेटी को गवाकर मातम में डूब गया फरीदाबाद

सूरजकुंड ने खुशियां फैलाई तो कहीं लड़ी गई निकिता के इंसाफ की लड़ाई, 10 तस्वीरों में छिपी है फरीदाबाद की कहानी

जगह जगह जला कूड़ा रह गया स्वच्छ भारत का सपना अधूरा

सूरजकुंड ने खुशियां फैलाई तो कहीं लड़ी गई निकिता के इंसाफ की लड़ाई, 10 तस्वीरों में छिपी है फरीदाबाद की कहानी

किसानों के आंदोलन से विदा हो रहा है साल

सूरजकुंड ने खुशियां फैलाई तो कहीं लड़ी गई निकिता के इंसाफ की लड़ाई, 10 तस्वीरों में छिपी है फरीदाबाद की कहानी

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...