Pehchan Faridabad
Know Your City

2021 में जनता और कर्मचारियों को हरियाणा सरकार से उम्मीद, आय के साधन बढ़ाने पर सरकार का जोर

कोरोना में निकले 2020 को न तो हरियाणा के लोग भूले है और न ही सरकार। जतना को व्यापार में नुकसान उठाना पड़ा है, वहीं सरकार को राजस्व मे भी घाटा हुआ है। अब प्रदेश को नए सिरे से खड़ा करने के लिए 2021 में जनता और कर्मचारियों को हरियाणा सरकार से उम्मीद है। साथ ही सरकार का आय के साधन बढ़ाने पर भी पूरा ध्यान रहेगा।

सरकार इस जद्दोजहद में है कि समय रहते 12 हजार करोड़ का राजस्व के नुकसान की भरपाई जल्द ही कर ली जाएं। नुकसान का असर पेंशन पर पड़ रहा है और कई विकास कार्य रुके हैं। ऐसे में जितनी जल्द यह राजस्व प्राप्त होगा उतनी तेजी से विकास संभव हो पाएगा। 

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल को उम्मीद है कि प्रदेश की जनता को कोरेाना से जल्द छुटकारा मिल जाएगा। उन्होंने कहा है कि कोरोना का रफ्धीतार रे-धीरे कम हो रही है। हरियाणा सरकार की कार्यकुशलता के कारण ही ऐसा संभव हो सका है।

नए साल में नई योजनाओं पर कार्य होगा। सरकार की सबसे महत्वाकांक्षी योजना एक लाख गरीब परिवारों को सक्षम बनाने की है। जिससे ऐसे परिवारों की प्रतिमाह की आय कम से कम नौ हजार अवश्य हो और वे जीवन यापन बेहतर ढंग से कर सकें।

आने वाले समय में सरकार इसके लिए भी प्रयासरत हैकि कोई भी व्यक्ति किसी भी स्थान से जमीन की रजिस्ट्री करवा पाए। इसके लिए अधिकारियों को दिशा निर्देश दे दिए गए हैं। केरोसीन फ्री हरियाणा करने के बाद सरकार ई आफिस बनाने की ओर आगे बढ़ रही है। इस कवायद के जरिए भ्रष्टाचार पर लगाम कसने का इरादा है।

डिजिटल हरियाणा को केंद्र सरकार ने सम्मान से नवाजा है। नए साल में कई ऐसी सेवाएं हैं जो डिजिटल हो जाएंगी। सरकार ने बिजली बिल, पानी के बिल, सचिवालय के पास सहित कई ऐसे काम किए हैं। जिन्होंने डिजिटल हरियाणा के सपने को पूरा किया है। परिवार पहचान पत्र योजना को भी इसी साल के मध्य तक शुरू करवाने का प्रयास है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More