HomeFaridabadजब बत्ती रहेगी गुल तो बच्चों की कैसी होगी ऑनलाइन पढ़ाई क्या...

जब बत्ती रहेगी गुल तो बच्चों की कैसी होगी ऑनलाइन पढ़ाई क्या इसका जवाब दे पाएंगे अधिकारी?

Published on

महामारी के वजह से पहले ही स्कूल बंद होने के वजह से बच्चों को पढ़ाई में दिक्कत आ रही थी।इसके वजह से ऑनलाइन शिक्षा का प्रावधान शुरू किया गया लेकिन बिजली के गुल होने के वजह से बच्चों को ऑनलाइन क्लासिस लेने में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं।

ग्रेटर फरीदाबाद डिवीज़न के पलवली व खड्ड कॉलोनी एरिया में शुक्रवार से ही बिजली की सप्लाई प्रभावित हैं।बिजली सप्लाई न होने से परेशान होकर लोगो ने दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के लाइनमेन,जेई, एसडीओ और एक्सईएन से शिकायत की।शिकायत के बाद भी संबंधित अधिकारियों की तरफ से कोई सुनवाई नही की गई।

जब बत्ती रहेगी गुल तो बच्चों की कैसी होगी ऑनलाइन पढ़ाई क्या इसका जवाब दे पाएंगे अधिकारी?

बिजली की सप्लाई न होने के वजह से लोग न तो अपने मोबाइल फोन चार्ज कर पाए और ना ही लैपटॉप, जिससे बच्चे अपनी ऑनलाइन क्लासिस अटेंड नही कर पाए। इसके साथ ही जो लोग अपना ऑफिस का काम घर से करते हैं वह भी लैपटॉप चार्ज न होने के वजह से अपना कोई भी काम नही कर पाए।

दक्षिण बिजली वितरण निगम के उपभोक्ता कविता, प्रकाश, सुनील, पंकज नंबरदार का कहना हैं कि शुक्रवार सुबह 6 बजे से ही बिजली गुल हैं।लंबे समय से बिजली न होने के वजह से लोगो के दैनिक कार्यो पर भी भारी असर पड़ रहा हैं। उपभोक्ताओं का आरोप यह हैं कि बिजली विभाग के अधिकारियों से एक बार शिकायत करने के बाद किसी भी अधिकारी द्वारा दुबारा फोन कॉल रिसीव नही किया गया।जिसके चलते लोगो को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं।

जब बत्ती रहेगी गुल तो बच्चों की कैसी होगी ऑनलाइन पढ़ाई क्या इसका जवाब दे पाएंगे अधिकारी?

लोगों ने बताया 24 घंटे बिजली का दावा करने वाली सरकार और अधिकारी आम जनता का ग़ुमराह कर रहे हैं।बिजली सप्लाई प्रभावित होने का मुख्य कारण लाइनों में फाल्ट बताया गया।वहीं, दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के ग्रेटर फरीदाबाद डिवीज़न के एक्साइन राजेश नंदल ने कहा संबंदित अधिकारियों  से बात करके समस्या दूर कराने की कोशिश हैं।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...