Pehchan Faridabad
Know Your City

लोगों को जागरूक करेगी निजी एंबुलेंस, फ्री में बनाए जा रहे है गोल्डन कार्ड, ऐसे करें आवेदन


शहरवासियों को अगर अपना 5 लाख रूपये तक का फ्री में उपचार करवाना चाहते हैं, तो वह जल्द से जल्द गोल्डन कार्ड बनवा ले। गोल्डन कार्ड सिर्फ लाभार्थी परिवार ही बनवा सकते है।

गोल्डन कार्ड को बनवाने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से जगह जगह आयुष्मान मित्र की नियुक्ति की हुई है। सीएमओ डाॅक्टर रणदीप सिंह पुनिया ने बताया कि गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए लोगों को समय समय पर जागरूक किया जाता है। जिले में गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए 21 निजी अस्पतालों व 6 सरकारी अस्पतालों में बनाए जा रहे है।

इसी वजह से कुछ दिन पहले निजी अस्पतालों के साथ मीटिंग ली गई थी। जिसके बाद उनको कहा गया कि वह अपने निजी अस्पताल के एंबुलेंस पर आयुष्मान कार्ड को बनवाने के लिए जागरूक किया गया। इसी के चलते सोमवार को करीब 10 निजी ऐंबुलेंस पर आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए पोस्टर लगाकर सीएमओ डाॅक्टर रणदीप सिंह पुनिया ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। यह ऐंबुलेंस जहां से भी गुजरेगी तो लोग गोल्डन कार्ड को लेकर जागरूक होंगें। क्योंकि अभी तक गोल्डन कार्ड बनाने की प्रक्रिया को बढ़ाया जा सकता है।

डिप्टी नोडल आॅफिस डाॅक्टर विशाल ने बताया कि अभी तक जिले के 87283 लोगों के गोल्डन कार्ड बनाए जा चुके है। इसके अलावा जिले के 4479 लोगों को गोल्डन कार्ड के तहत उपचार मिल चुका है। उन्होंने बताया कि कुछ समय पहले प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की सीईओ अमनीत पी कुमार ने कुछ समय पह जिले के सभी नोडल आॅफिसरों की मीटिंग ली गई। जिसमें उन्होंने बताया कि अभी तक करीब 19 हजार लोगों के गोल्डन कार्ड रिजेक्ट हो गए है। जिसकी वजह से उनको दोबारा से बनाने की कोशिश की जा रही है। इसके अलावा पहले गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए पत्र बनाने की पाॅवर नोडल आॅफिसर के पास थी। लेकिन अब जिले के सभी स्वास्थ्य केंद्रों के एमओ को इसकी पाॅवर दे दी गई है। अब लोग अपने आस पास के स्वास्थ्य केंद्रों पर जाकर पत्र बनवा सकते है।

इन अस्पतालों में बनवा सकते है गोल्डन कार्ड

  • पार्क अस्पताल, सेक्टर 10
  • नोबल अस्पताल एंड टामा सेंटर, सेक्टर 14
  • संतोष अस्पताल, एनआईटी 3 नंबर
  • एसकेजी अस्पताल, बल्लभगढ़
  • अपू्रवा नर्सिंग होम , एनआईटी
  • शांति देवी मेमोरियल अस्पताल, सेक्टर 88
  • अर्श अस्पताल, सेक्टर 78
  • सर्या ओर्था एंड टामा सेंटर , एनआईटी
  • सेंटर फाॅर साइट फरीदाबाद, सेक्टर 16ए
  • गोयल अस्पताल, सेक्टर 8
  • आर के अस्पताल, एनआईटी
  • हांडा मेडिकल सेंटर, सेक्टर 16
  • अलफा अस्पताल, धौज
  • मेडिचैक अस्पताल, एनआईटी
  • केदार अस्पताल, एनआईटी
  • पवन अस्पताल यूनिट 1, एनआईटी
  • पवन अस्पतान यूनिट 2, बल्लभगढ़
  • मानवता अस्पताल प्राइवेट अस्पताल, बल्लभगढ़
  • नेशनल इंस्टीटयूट आफ मेंडिकल साइंस, सेक्टर 23
  • सर्वाेदय अस्पताल, सेक्टर 8
  • डाॅक्टर टूडे आईवीएफ एंड मल्टी स्पेस्लिटी अस्पताल , एनआईटी

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More