Pehchan Faridabad
Know Your City

महामारी के बाद बर्ड फ्लू का कहर, जानिये क्या है यह बीमारी कैसे करें इस से बचाव

साल 2020 महामारी में बीत गया। वहीं साल 2021 की शुरूआत में ही एक नई बीमारी से देश के कई राज्य चिंतित है। महामारी को बचाव तो था लेकिन इस बीमारी से ज्यादातर लोगों की मृत्यू हो जाती है। देश के कई राज्यों में बर्ड फ्लू से हजारों पक्षियों के मरने की पुष्टि हो चुकी है।

वहीं हरियाणा में भी बर्ड फ्लू ने दस्तक दे दी है। जानकारी के अनुसार पंचकुला में भी करीब 80 हजार पक्षों के मारे माने की जानकारी मिल रही है। वहीं फरीदाबाद के डीएफओ राजकुमार ने बताया कि बर्ड फ्लू ज्यादातर उन इलाकों में आते है जहां दूसरे देश से पक्षियों का आवागमन होता है।

हरियाणा में झज्ज्र और हिसार जिलों में प्रवासी पक्षी देखने को मिलते है। अभी फरीदाबाद में ऐसी कोई जानकारी नहीं मिली है कि कोई पक्षी बर्ड फ्लू के कारण मारा गया है।

उन्होनें बताया कि अभी उनको उच्चअधिकारियों की ओर से कोई जानकारी भी प्राप्त नहीं हुई है। शहर में एनटीपीसी, अरावली एवं हरियाणा में आने वाले यमुना नदी के क्षेत्र में पक्षी विचरण करते हैं। बर्ड फ्लू वायरस मिलने के बाद पूरी तरह सतर्कता बरती जा रही है। उन्होंने बताया कि यह वायरस वहीं फैलते हैं जहां पक्षियों की तादाद काफी ज्यादा होती है। उन पक्षियों के संपर्क में जो भी आता है वह सांस के जरिए वायरस शरीर में प्रवेश कर लेता है।

क्या है बर्ड फ्लू


बर्ड फ्लू को एवियन एंफ्लुएंजा भी कहते हैं। एक तरह का वायरल इंफेक्शन है जो पक्षियों से मनुष्यों को भी हो सकता है। यह जानलेवा भी हो सकता है।

बर्ड फ्लू के लक्षण


बर्ड फ्लू के लक्षण भी सामान्य फ्लू जैसे ही होते हैं। सांस लेने में समस्या और हर वक्त उल्टी, कफ, नाक बहन, सिर में दर्द रहना, गले में सूजन, मांसपेशियों में दर्द, दस्त होना, हर वक्त उल्टी सा महसूस होना, पेट के निचले हिस्से में दर्द रहना, सांस लेने में समस्याए, सांस ना आना, निमोनिया आदि लक्षण देखे जा सकते।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More