HomeFaridabadनगर निगम को मिला नया जीवन दान , डीसी यशपाल के हाथ...

नगर निगम को मिला नया जीवन दान , डीसी यशपाल के हाथ मे होगी कमान

Published on

अभी तक फरीदाबाद की व्यवस्था को सुचारू रूप से बनाए रखने वाले फरीदाबाद उपायुक्त यशपाल यादव अब नगर निगम की व्यवस्था को दुरुस्त करते हुए भी दिखाई देंगे। ऐसा इसलिए है क्योंकि निगमायुक्त यश गर्ग का स्थानांतरण हो गया है।

जिसके अभाव में अब निगम का कार्यभार भी फरीदाबाद उपायुक्त यशपाल यादव के कंधों पर आ गया है।

नगर निगम को मिला नया जीवन दान , डीसी यशपाल के हाथ मे होगी कमान

वैसे देखा जाए तो अभी तक फरीदाबाद उपायुक्त यशपाल यादव द्वारा फरीदाबाद की मनोदशा को सुधारने में जो योगदान दिया गया है वह काबिले तारीफ है।

अब जब यही कार्य नगर निगम में देखने को मिलेगा तो फरीदाबाद की स्वच्छ तस्वीर देखने पर ही बन पड़ेगी। जहां अभी तक फरीदाबाद में स्वच्छता को कायम रखने के लिए उपायुक्त ने हर नामुमकिन व अथक प्रयास किए हैं

नगर निगम को मिला नया जीवन दान , डीसी यशपाल के हाथ मे होगी कमान

वो किसी से अछूता नहीं रहा है। वही इस बात से सभी परिचित है कि जिला उपायुक्त की मेहनत और सख्त दिशा निर्देश के बाद ही स्वच्छ भारत की तस्वीर फरीदाबाद जिले में देखने को मिल रही है।

इसी तरह निगम की खस्ता हालत को सुधारने का कार्यभार यशपाल यादव के कंधों पर दिया गया है तो इसमें कोई दो राय नहीं है कि निगम में भी जल्द अलग-अलग परिवर्तन देखने को मिलेगा जो फरीदाबाद वासियों के लिए काबिले तारीफ साबित होगा।

नगर निगम को मिला नया जीवन दान , डीसी यशपाल के हाथ मे होगी कमान

जहां अभी तक जिला उपायुक्त ने संक्रमण के दौर में भी हर तरह की सकारात्मक व्यवस्था को बनाए रखने में अधिकारियों को सख्त दिशा निर्देश सहित अभिप्रेरित किया है वह आने वाले समय में निगम में भी देखने को मिलेंगे और जल्दी निगम की हालत में भी सुधार देखा जाएगा।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...