Online se Dil tak

तैयारी हो गई पूरी, आज से शुरू होगा कोवैक्सीन का ड्राई रन, 25 वाॅलेंटीयर को लगाई जाएगी कोवैक्सीन

गुरूवार को महामारी को मात देने के लिए कोवैक्सीन का ड्राई रन शुरू किया जा रहा है। जिसको लेकर शहर के सभी 6 सेंटरों पर तैयारी पूरी हो चुुकी है। पहले चरण में जिले के करीब 18 हजार स्वास्थ्य कर्मियों को कोवैक्सीन लगाया जाएगा।

सेक्टर 3 स्थित प्रथम रेफरल यूनिट 1 के नोडल आफिसर डाॅक्टर शिव प्रसाद दुबे ने बताया कि उनकी ओर से सभी प्रकार की तैयारी हो चुकी है। उन्होंने बताया कि कमरों का चयन किया जा चुका है। किस कमरे में क्या होगा, उसका चयन किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि ड्राई रन के तहत कर्मचारियों की एंट्री पीछे वाले गेट से की जाएगी।

तैयारी हो गई पूरी, आज से शुरू होगा कोवैक्सीन का ड्राई रन, 25 वाॅलेंटीयर को लगाई जाएगी कोवैक्सीन
तैयारी हो गई पूरी, आज से शुरू होगा कोवैक्सीन का ड्राई रन, 25 वाॅलेंटीयर को लगाई जाएगी कोवैक्सीन

उसके बाद उन कर्मचारियों को वेटिंग हाॅल में बैठाया जाएगा। जिसके बाद उनको कमरा नंबर 16 में भेजा जाएगा । जिसमें पहले आॅपरेटर द्वारा नाम व अन्य चीजों की जानकारी प्राप्त की जाएगी। उसके बाद उसी कमरे में कोवैक्सीन लगाई जाएगी। उसके बाद उनको कमरा नंबर 18 में भेजा जाएगा। जोकि एक अवलोकन का कमरा होगा। क्योंकि सरकार द्वारा निर्देश दिया गया कि कोवैक्सीन लगने के बाद करीब आधे घंटे तक अवलोकन किया जाएगा।

इस दौरान उक्त व्यक्ति को कोई परेशानी होती है तो उस पर तुरंत नजर रखे जा सकें। आधा घंटा बीत जाने के बाद उनको जाने दिया जाएगा। उन्होंने बताया अभी ड्राई रन किया जा रहा है। जिसमें कोवैक्सीन को लगाया नहीं जाएगा। बाकी अन्य सभी कार्य किए जाएगें। अगर यह ड्राई रन सफल हो जाएगा। तो जल्दी ही कोवैक्सीन को लगाने का कार्य भी शुरू कर दिया जाएगा।

तैयारी हो गई पूरी, आज से शुरू होगा कोवैक्सीन का ड्राई रन, 25 वाॅलेंटीयर को लगाई जाएगी कोवैक्सीन
तैयारी हो गई पूरी, आज से शुरू होगा कोवैक्सीन का ड्राई रन, 25 वाॅलेंटीयर को लगाई जाएगी कोवैक्सीन

नोडल आफिसरों की ली मीटिंग


डिप्टी सीएमओ डाॅक्टर रमेश ने बताया कि ड्राई रन की पूरी तरह से तैयारी शुरू हो चुकी है। सभी नोडल आॅफिसरों को हिदायत दी जा चुकी है। गुरूवार को सुबह 11 बजे से ड्राई रन शुरू हो जाएगा। उनकी टीम समय समय पर सभी सेंटरों पर जाकर जांच करेगी। पुलिस विभाग को भी सुचित किया जा चुका है। हर सेंटर पर एक पुलिस कर्मी, दो सिस्टर, एक कंप्यूटर आपरेटर व एक कर्मचारी कोवैक्सीन को लगाने के लिए जागरूक करेगा। इसके अलावा नोडल आफिसर भी मौजूद रहेंगें।

Read More

Recent