Online se Dil tak

फरीदाबाद के 10वी पास फर्जी डॉक्टर का भांडाफोड़, पिछले 16 सालों से चला रहा था क्लिनिक।

नीलम बाटा रोड स्थित एसी नगर में गर्भवती महिलाओं को गैर कानूनी तरीके से गर्भपात की दवाई बेचने के आरोप में एक फर्जी डॉक्टर को गिरफ्तार किया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए फर्जी डॉक्टर के क्लिनिक पर छापा मारा।

जब जांच हुई तो पता चला कि डॉक्टर के पास कोई डिग्री नही है। पुलिस ने आरोपी डॉक्टर को हिरासत मे ले लिया है। सिविल सर्जन को सूचना मिली कि नीलम बाटा रोड स्थित एसी नगर में एक फर्जी डॉक्टर एकेएस के नाम से क्लिनिक चलाता है और गर्भपात की दवाइयां बेचता है।

मामले की जांच के लिए डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. हरीश आर्य व डॉ हरजिंदर सिंह की एक टीम बनाई गई। टीम ने धीरज नाम के एक युवक को ग्राहक बनाकर आरोपी डॉक्टर के क्लिनिक पर भेजा गया। यहां पर मिथलेश कुमार के नाम का व्यक्ति खुद को डॉक्टर बता रहा था।

धीरज ने कहा कि उसे अपनी पत्नी के गर्भपात के लिए दवाइयां लेनी है। मिथलेश ने धीरज को इंतजार करने के लिए कहा और दवाई के लिए किसी सप्लायर से गर्भपात की दवाई लाने के लिए कहा। काफी देर तक सप्लायर नहीं आया तो डॉ. मिथलेश ने धीरज को अगले दिन आकर दवाइयां ले जाने के लिए कहा। धीरज का इशारा पाते ही टीम क्लिनिक के अंदर पहुंच गई।

फरीदाबाद के 10वी पास फर्जी डॉक्टर का भांडाफोड़, पिछले 16 सालों से चला रहा था क्लिनिक।
फरीदाबाद के 10वी पास फर्जी डॉक्टर का भांडाफोड़, पिछले 16 सालों से चला रहा था क्लिनिक।

मिथलेश ने टीम को बताया कि वह केवल 12वीं पास है और पिछले 16 साल से क्लिनिक चला रहा है। मिथलेश ने अपने क्लिनिक में पंजाब काउंसिल ऑफ पैरामेडिकल से जारी बीएमएस की डिग्री भी लगा रखी थी, जिसे टीम ने अपने कब्जे में ले लिया। क्लिनिक में बड़ी मात्रा में अंग्रेजी दवाइयां व गर्भपात में प्रयोग होने के औजार, लेटर पैड, मेडिकल सर्टिफिकेट पैड भी बरामद हुए।

टीम अभी अपना काम कर ही रही थी कि अचानक क्लिनिक के बाहर काफी संख्या में कुछ लड़के आ गए और टीम की कार्रवाई में बाधा पहुंचाकर डॉ मिथलेश को मौके से भगाने की कोशिश करने लगे। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने स्थानीय पुलिस से सम्पर्क करके मौके बुलाया।

जब तक पुलिस टीम आती कुछ शरारती तत्वों ने टीम के साथ हाथापाई करके डॉ. मिथलेश व बरामद सामान को लेकर नौ दो ग्यारह होने कोशिश की। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मोबाइल में आरोपियों की वीडियो बना ली। थाना कोतवाली पुलिस ने आरोपी डॉक्टर को गिरफ्त मे ले लिया है, जबकि डॉक्टरों की टीम से झगड़ा करने वाले आरोपियों की तलाश की जा रही है।

Read More

Recent