Pehchan Faridabad
Know Your City

फरीदाबाद पुलिस राज्य की सबसे बेहतर पुलिस, चौदवें स्थान से छलांग मार आयी चौथे स्थान पर

फरीदाबाद पुलिस ने अपनी पिछले 6 महीने की उपलब्धियां गिनाईं है. पुलिस ने साल 2020 के जुलाई महीने से दिसंबर महीने तक के बीच अपने द्वारा किए कार्यों का उल्लेख करते हुए पुलिस महकमे की उपलब्धियां गिनाईं हैं.

फरीदाबाद पुलिस राज्य में जुलाई 2020 के चौदहवें स्थान से दिसम्बर 2020 में चौथे स्थान पर आ गई है. पुलिस आयुक्त, फरीदाबाद ने इस अवधि में क्षेत्र के सकारात्मक प्रभावशाली व्यक्तियों के साथ 26 बैठकें की जिसमे 624 लोगों ने भाग लिया.

पुलिस आयुक्त फरीदाबाद कार्यालय में प्राप्त 5582 शिकायतों में से 5525 का पुलिस ने निपटारा किया. डाक द्वारा पुलिस आयुक्त कार्यालय में प्राप्त 873 शिकायतों में से 702 का भी निस्तारण किया गया. पुलिस कमिश्नर ने इसी दौरान 1299 शिकायतकर्ताओं से मुलाकात की और उनकी शिकायतों का मौके पर निवारण किया.

फरीदाबाद पुलिस के मुताबिक, “671 बीट अधिकारियों ने 88,794 परिवारों का दौरा किया और शिकायतकर्ताओं को चालान और एफआईआर की 5,428 प्रतियां दीं. 13,981 स्ट्रीट कॉर्नर मीटिंग कीं, सुरक्षा सावधानी बरतने और कानूनों का स्वेच्छा से पालन करने के बारे में लोगों को जागरूक किया. इन बैठकों में 2,23,767 लोगों ने हिस्सा लिया.

इनके अलावा पुलिस ने गुमशुदा लोगों को ढूंढने का भी दावा किया है, पुलिस ने कहा है, ” 536 गुमशुदा व्यक्तियों में से 412 को बरामद किया. इस अवधि में विवाह के उन्मूलन और अपहरण के 183 में से 138 मामलों को भी हल किया गया.”

वहीं संपत्ति से सम्बंधित अपराधों की श्रेणी में पुलिस ने इस अवधि में 4 डकैती, 6 लूट, 58 स्नैचिंग, 67 सेंधमारी, 71 चोरी और 157 वाहन चोरी के मामलों में 384 अपराधियों को गिरफ्तार किया. ऐसा पुलिस का दावा है. 

वहीं स्थानीय और विशेष कानूनों के तहत पुलिस ने 686 आबकारी, 548 जुआ, 115 एनडीपीएस व 173 हथियार अधिनियम के तहत मामले दर्ज किए. पुलिस ने 186 घोषित अपराधियों, 247 जमानतकर्ताओं, 17 मोस्ट वांटेड और 1 पैरोल जम्पर को गिरफ्तार किया, ऐसी पुलिस ने जानकारी दी है. 

फरीदाबाद पुलिस का कहना है, “प्रधानमंत्री शिकायत पोर्टल पर दर्ज 1125 में से 1051, सीएम विंडो पर दर्ज 1709 में से 1533, हरसमय पोर्टल पर दर्ज 1505 में से 1437, कमिशन में प्राप्त 440 में से 406, पुलिस हेडक्वार्टर में प्राप्त 1180 में से 1147 और गृह मंत्रालय में प्राप्त 516 में से 493 शिकायतों का निस्तारण किया.”
 

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More