HomeFaridabadफरीदाबाद के इस विभाग के कर्मचारी नही मानते अधिकारी के आदेश, होगी...

फरीदाबाद के इस विभाग के कर्मचारी नही मानते अधिकारी के आदेश, होगी कार्रवाही।

Published on

डा.यश गर्ग के तबादले के बाद जिला उपायुक्त यशपाल यादव को जब आयुक्त के रूप में नगर निगम का कार्यभार सभाला, तो यह उम्मीद की जा रही थी कि निगम का स्टाफ मे अब काफी बदलाव देखने को मिलेगा। यशपाल यादव ने जिम्मेदारी मिलने पर पहले ही दिन इस बाबत आदेश भी दे दिए थे कि निगम अधिकारी व कर्मचारी कार्यालयों में बैठकर आम जनता की समस्याएं सुनें और उन्हें दूर करें।

यशपाल यादव को यह भी शिकायत मिली थी कि नगर निगम के कर्मचारी सुबह समय पर ड्यूटी पर नहीं आते हैं। इस पर उन्होंने हर कर्मचारी को ड्यूटी को गंभीरता से लेने को कहा था और उनके लिए सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक अपने कार्यालयों में तैनाती सुनिश्चित करने के भी आदेश दिए थे।

उन आदेशों का असर अभी तक कर्मचारियों की कार्यप्रणाली पर नहीं पड़ा है। स्थिति में सुधार के लिए यशपाल यादव ने अतिरिक्त निगमायुक्त इंद्रजीत सिंह को निरीक्षण करने को भी कहा था, जिससे जो कर्मचारी आदेश को पालन नही कर रहे है या गंभीरता से नही ले रहे है। उनके खिलाफ कार्रवाही की जा सके.

फरीदाबाद के इस विभाग के कर्मचारी नही मानते अधिकारी के आदेश, होगी कार्रवाही।

सोमवार को कई कर्मचारीयों की सीटे खाली पड़ी थी। बहुत से कर्मचारी चाय की दुकान पर गप्पे मारते नजर आए। निगम के पार्क के आसपास तथा निगम मुख्यालय के पिछले हिस्से में कई कर्मचारी धूप का आनंद ले रहे थे।

निगमायुक्त के रूप में कार्यभार संभालने के तीन दिन बीत जाने के बाद भी निगम के हालात पहल जैसे ही नजर आए। समय पर ड्यूटी पर न आने वाले कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। अभी उन्होंने किसी भी शाखा कार्यालय का निरीक्षण नहीं किया है। जल्द ही निरीक्षण किया जाएगा।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...