Online se Dil tak

इकोग्रीन की इस लापरवाही का आप हो रहे हैं शिकार, फरीदाबाद में गंदगी बढ़ने के आसार

जिले में लगातार इन दिनों आपको कूड़े – कचरे के ढेर मिल जाएंगे। लोग स्वच्छता के प्रति जागरूक नहीं हो रहे हैं। शहर में जल्द ही स्वच्छता सर्वेक्षण शुरू होने वाला है लेकिन साफ सफाई पर लगातार लापरवाही बरती जा रही है। डोर टू डोर कूड़ा एकत्र करने वाली ईको ग्रीन कंपनी के कर्मचारी लोगों से गीला और सूखा कूड़ा करने की नसीहत तो दे रहे हैं लेकिन इनके वाहनों में दोनों अलग-अलग ले जाने की व्यवस्था नहीं है।

नसीहतें देने से काम नहीं चलता यह बात इकोग्रीन को समझनी चाहिए। नगर निगम सूत्रों का कहना है कि स्वच्छ भारत सर्वेक्षण की टीम ने कुछ समय पहले ही कंपनी का निरीक्षण किया था।

इकोग्रीन की इस लापरवाही का आप हो रहे हैं शिकार, फरीदाबाद में गंदगी बढ़ने के आसार

कुछ दिनों बाद फिरसे फरीदाबाद स्वच्छता सर्वेक्षण में अपना रैंक बुरा कर लेगा। स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 सिर पर है, मगर इकोग्रीन की ओर से अभी तक वाहनों में गीला व सूखा कचरा एकत्र करने को कोई व्यवस्था नहीं की गई है। नगर निगम भी इसके प्रति गंभीर नहीं दिख रहा है।

इकोग्रीन की इस लापरवाही का आप हो रहे हैं शिकार, फरीदाबाद में गंदगी बढ़ने के आसार

कचरा निस्तारण के लिए अनुबंधित चीन की इको-ग्रीन नामक कंपनी अपना भरोसा कम करती जा रही है। इकोग्रीन, स्वच्छ भारत मिशन की टीम के साथ दिसंबर, 2020 में तत्कालीन निगमायक्त डा.यश गर्ग के साथ हुई बैठक में तय किया गया था कि कचरा एकत्र करने को हर वाहन में विभाजन किया जाएगा।

इकोग्रीन की इस लापरवाही का आप हो रहे हैं शिकार, फरीदाबाद में गंदगी बढ़ने के आसार

पिछले कुछ सालों से इकोग्रीन जिले में काम कर रही है। लोगों की मदद तो की है इसने लेकिन अभी तक सूखे और गीले कचरे को उठाने का काम अच्छे से नहीं कर पायी है। उस बैठक में तय किया गया था कि इकोग्रीन वाहन के दो हिस्से होंगे। एक में गीला और दूसरे हिस्से में सूखा कचरा एकत्र होगा। मगर अब तक इस तरफ ध्यान नहीं दिया गया है।

Read More

Recent