HomeUncategorizedक्या आपको भी एटीएम से नकदी नहीं मिल रही है, जानें क्या...

क्या आपको भी एटीएम से नकदी नहीं मिल रही है, जानें क्या हो सकता है कारण

Published on

जिले में कुछ लोगों को एटीएम से नकदी नहीं मिल रही है। ऐसे में उनके काम अधूरे रह रहे हैं। शहर में लगे ज्यादातर एटीएम में पिछले दो महीने से शनिवार और रविवार को नकदी नहीं होती है। इसका असर अगले दिन सोमवार को भी देखने को मिलता है। सोमवार को भी यही स्थिति देखने को मिली, जब पूरे दिन शहर के लोग बाइकों से एटीएम से रुपये निकालने के लिए इधर से उधर चक्कर लगाते नजर आए।

फरीदाबाद में इस परेशानी से ज़्यादातर लोगों की समझ नहीं आ रहा है कि वे इस मामले में शिकायत भी करें, तो किस से करें। लोगों का मान ना है कि एटीएम में नकदी का संकट कम होता दिखाई नहीं दे रहा है। शहर के ज्यादातर एटीएम में नकदी नहीं है।

क्या आपको भी एटीएम से नकदी नहीं मिल रही है, जानें क्या हो सकता है कारण

लोग परेशान हो रहे हैं। लेकिन, बैंकों के अफसर इससे बेखबर हैं। अफसरों को इस बात से शायद कोई मतलब नहीं कि कौन परेशान हो रहा है कौन नहीं। शहर में करीब 50 जगह पर एटीएम लगे हुए हैं। इन पर बैंकों ने सुरक्षा के नाम पर चौकीदार भी रखे हुए हैं। इसके बावजूद शहर के ज्यादातर एटीएम में नकदी नहीं होती। बैंक अधिकारी मशीन के सामने ही लगा देते हैं कि कैश नहीं है।

क्या आपको भी एटीएम से नकदी नहीं मिल रही है, जानें क्या हो सकता है कारण

ज़्यादातर एटीएम में तो लोगों को वह बोर्ड भी नज़र नहीं आएं जिसपर लिखा होता है “कैश नहीं है” किसी व्यक्ति को जरूरत होती है, तो वह बैंक के चक्कर काट कर परेशान हो जाता है। कई बार लोग एक-दूसरे से उधार रुपये लेकर काम चलाते हैं।

क्या आपको भी एटीएम से नकदी नहीं मिल रही है, जानें क्या हो सकता है कारण

बैंक में जमा अपने ही रुपये निकालने के लिए आए दिन एक एटीएम से दूसरे एटीएम घूमना पड़ रहा है, ये कैसी व्यवस्था है। लोग नकदी के लिए जहां भी जा रहे हैं उन्हें वहां निराशा ही हाथ लग रही है। एटीएम से पैसा न मिलने से लोगों में अफसरों के प्रति नाराजगी भी है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...