Online se Dil tak

जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी रीतू चौधरी ने कार्य से निष्कासित हुई युवती को दिलाया उसका अधिकार

फरीदाबाद की जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी रितु चौधरी द्वारा जानकारी देते हुए बताया कि 4 दिसंबर डीडीईओ व बीईओ फरीदाबाद द्वारा गठित कमेटियों के जांच के दौरान मुख्य शिक्षक व एसएमसी जीपीएस सेहतपुर द्वारा धनवती को हटाने में विभाग की कहीं ना कहीं अनदेखी का पता चला है।

जिसका गहनता से जांच उक्त कमेटियों के सदस्यों द्वारा किया गया था। मामले की जांच पड़ताल करने के बाद अब धनवती जो कि मिड डे मील के अंतर्गत कुक कम हेल्पर को जीपीएस सैहतपुर कार्यरत थी अब उसे दोबारा ज्वाइन करने की सिफारिश की गई है।

जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी रीतू चौधरी ने कार्य से निष्कासित हुई युवती को दिलाया उसका अधिकार

वहीं जिला शिक्षा अधिकारी ने यह भी बताया कि धनवती को पारिश्रमिक विभागीय नियमों की पालना करते हुए उसका बकाया भी दिया जाएगा। रितु चौधरी ने कहा कि यदि पूर्व में 7 कुक कम हेल्पर का वेतन 8 में वितरित किया गया है तो अब इसी प्रकार बकाया वेतन 8 को कम हेल्पर में वितरित करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि सबको समांतर का अधिकार देना अनिवार्य है।

उन्होंने यह भी कहा कि भविष्य में इस बात का ध्यान रखें कि इस तरह की लापरवाही ना बढ़ती जाए। उन्होंने यह भी कहा कि नियमों की अवहेलना ना हो इसका संपूर्ण ध्यान रखना होगा।

जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी रीतू चौधरी ने कार्य से निष्कासित हुई युवती को दिलाया उसका अधिकार
शिक्षा मौलिक अधिकारी रितु चौधरी

उन्होंने उच्च प्राथमिकता देते हुए रिपोर्ट अधोहस्ताक्षरी कार्यालय में भेजना सुनिश्चित किया। जिसमें उन्होंने बीएसए की मिड डे मील के अंतर्गत कुक कम हेल्पर धनवती जीपीएस सेहतपुर को दोबारा ज्वाइन करा कर उसका बकाया पारिश्रमिक देकर रिपोर्ट कार्यालय में 1 सप्ताह के अंदर भेजने के निर्देश दिए।

Read More

Recent