Pehchan Faridabad
Know Your City

हरियाणा पुलिस में महिलाओं की भागेदारी बढ़ाने के लिए सरकार ने कसी कमर , इतने का रखा टारगेट

सरकार सदा ही समाज से वंचित तबके को आगे बढ़ाने के लिए कितनी सक्रिय है यह सभी को भली भांति पता है पिछड़े तबके के उत्थान के लिए आरक्षण लागू किया गया है मगर किन्ही वर्गों को निर्धारित प्रतिनिधि नही मिल पाया है ।

वही हरियाणा पुलिस की बात की जाए तो उसमें भी सामाजिक तौर पर पिछड़े वर्ग के साथ महिलाओं की भागीदारी भी कम है इसको बढ़ाने के लिए सरकार काफी ठोस कदम उठाने जा रही है ।


जहां महिलाएं आज हर विभाग में अपनी भूमिका प्रखर रूप से दर्ज करा रही है पर हरियाणा पुलिस में अभी तक महिलाओं की भागीदार कम है पर सरकार ने इसको बढ़ाने के लिए कमर कस ली है ।


जिसमे प्रदेश पुलिस में महिलाओं की हिस्सेदारी अब 3 से 8 फीसद बढ़ी है और सरकार इसको बढा कर 15 फीसद का लक्ष्य निर्धारित किया है।

हाल ही में जारी हुईं बीपीआरडी की रिपोर्ट के अनुसार हरियाण पुलिस से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य निकलकर सामने आए ।
देश मे अन्य शहरों में हरियाणा के मुकाबले काफी बेहतर मामले है

वीआइपी सुरक्षा का भार हुआ कम

वर्ष वीआइपी सुरक्षा में तैनात पुलिस

2019 1355 3074

2018 1493 3556

-कुल थाने – 382

-पुलिस फोर्स – 52088

-खाली पद – 17761

-महिला पुलिस – 4344 (8 फीसद)

-5 फीसद पुलिस वीआइपी सुरक्षा में

-7 हजार कांस्टेबल भर्ती प्रक्रिया शुरु

1 लाख आबादी पर 241 पुलिस फोर्स होने चाहिए

1 लाख आबादी पर 180 पुलिस फोर्स है

औसतन प्रत्येक महिला थाना पर 3126 महिलाओं को सुरक्षा की जिम्मेदारी

1 पुलिस कर्मी के कंधों पर 554 व्यक्तियों की सुरक्षा का जिम्मा है, जबकि प्रत्येक 413 व्यक्तियों की सुरक्षा में एक पुलिस कर्मी होना चाहिए।

डीजीपी से कांस्टेबल तक स्थिति

रैंक मंजूर वर्तमान स्थिति

डीजीपी 7 4

एडीजीपी 8 4

आईजी 28 13

डीआईजी 16 12

एसपी 90 63

एएसपी 32 7

डीएसपी 236 170

इंस्पेक्टर 1075 922

एसआई 3300 2268

एएसआई 5805 4747

हेड-कांस्टेबल 12028 8297

कांस्टेबल 47224 35581

पुलिस फोर्स में महिलाएं 8 फीसद हैं जो राष्ट्रीय अनुपात से भी 2 फीसद कम है।

रैंक महिला अफसर

एएसपी 3

डीएसपी 18

इंस्पेक्टर 69

एसआई 213

एएसआई 500

हेड-कांस्टेबल 682

कांस्टेबल 2847

वंचित वर्गों को अभी नहीं मिला है वाजिब हक

हरियाणा पुलिस में अनुसूचित जाति, पिछड़े वर्ग की हिस्सेदारी

रैंक अनुसूचित जाति पिछड़ा वर्ग

डीएसपी 17 फीसद 24 फीसद

इंस्पेक्टर 09 फीसद 18 फीसद

एसआई 14 फीसद 26 फीसद

एएसआई 15 फीसद 23 फीसद

हेड-कांस्टेबल 16 फीसद 24 फीसद

कांस्टेबल 18 फीसद 26 फीसद

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More