Homeबढ़ने जा रही है मुसीबत : 26 जनवरी के बाद शहर में...

बढ़ने जा रही है मुसीबत : 26 जनवरी के बाद शहर में बढ़ेगा जाम, इन रास्तों से ना जाएँ

Array

Published on

जिले में जब से नीलम पुल एक तरफ से बंद हुआ है तब से लगातार जाम भी बढ़ता जा रहा है। पुल के नीचे बने कबाड़ के गोदाम में जब से आग लगी है तब से जाम की स्थिति लगातार ख़राब होती जा रही है। नीलम पुल के दो क्षतिग्रस्त पिलर्स की मरम्मत का काम इन दिनों जारी है, यह काम हफ्ते भर में पूरा हो जाएगा, इसके बाद दो अन्य पिलर्स का काम शुरू किया जाएगा।

जिन पिल्लर्स को नुकसान हुआ था उनका मरम्मत कार्य होने के बाद बाकी काम होगा। इस दौरान 26 जनवरी के बाद 3-4 दिन के लिए नीलम पुल के दोनों तरफ से आने-जाने पर रोक लगा दी जाएगी।

बढ़ने जा रही है मुसीबत : 26 जनवरी के बाद शहर में बढ़ेगा जाम, इन रास्तों से ना जाएँ

एक तरफ से पुल के बंद हो जाने के कारण जिलेवासियों को काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। जगह -जगह जाम की स्थिति बनी रहती है। जर्जर पिलर्स के मरम्मत के काम जुटी निजी कंपनी के सुपरवाइजर के अनुसार चारों पिलर्स के बीच में कुछ बेयरिग लगेंगे, इस खातिर आवागमन पूरी तरह से बंद करना जरूरी होगा।

बढ़ने जा रही है मुसीबत : 26 जनवरी के बाद शहर में बढ़ेगा जाम, इन रास्तों से ना जाएँ

पूरा आवागमन बंद हो जाने के कारण लोगों को जाम का सामना करना पड़ेगा। कुछ दिनों पहले हमनें देखा था कि क्षतिग्रस्त हुए नीलम पुल पर रातोंरात दीवार तोड़कर वाहन चालक उस पर फर्राटा भर रहे थे। पुल का एक तरफ का रास्ता बुरी तरह क्षतिग्रस्त है, जिनके पिलर्स के मरम्मत कार्य किया जा रहा है। बावजूद इसके नीलम चौक से पुल पर जाने वाले रास्ते पर बनी दीवार को ढहा दिया गया था।

बढ़ने जा रही है मुसीबत : 26 जनवरी के बाद शहर में बढ़ेगा जाम, इन रास्तों से ना जाएँ

कुछ महीनों पहले नीलम पुल के नीचे आग लग गयी थी। 22 अक्टूबर से नीलम पुल की एक साइड बंद पड़ी है। 26 जनवरी के बाद तीन-चार दिन के लिए नीलम पुल को पूरी तरह बंद किया जाएगा। इस से जाम भी लगातार बढ़ेगा। नीलम पुल पर मरम्मत कार्य होने से हर दिन वहां ट्रैफिक जाम लगता है। इन 2-3 आप नीलम फ्लाईओवर से न जाएँ। आपको जाम में फसना पड़ेगा।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...