Pehchan Faridabad
Know Your City

अब हरियाणा में मिलेगा हल्दी वाला दूध और बाजरे के बने पौष्टिक बिस्कुट जानिए कैसे

खाना-पीना और स्वस्थ स्वास्थ्य ही एक स्वस्थ समाज का निर्माण करता है। ऐसे में जरूरी है कि खाने में लिया जाने वाला आहार पौष्टिक तत्व से भरपूर हो। इसी बारे में ज्यादा सोचते हुए अब हरियाणा के लोगों के लिए छह महत्वपूर्ण समझौते हरियाणा सरकार द्वारा किए गए हैं।

गुप्त समझौते के मुताबिक अब एफएमसीजी प्रमुख कंपनियों पैप्सीको व आईटीसी तथा स्टेट फेडरेशन में एचपीएमसी व मार्कफेड और हरियाणा एफपीओ जैसे कि अतुल्य बीमास्टर और एकता हनी के उत्पादों को वीटा बूथों पर बिक्री के लिए उपलब्ध करवाया जा सकेगा।

इससे हरियाणा वासियों को काफी मात्रा में लाभ मिलेगा। इसके अलावा, हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ लि. द्वारा तैयार किए गए हल्दी दूध की शुरूआत, वीटा फ्रेंचाइजी पॉलिसी की लांचिंग और हैफेड के बाजरा व ज्वार बिस्कुट, नमकीन व मटठी को भी लांच किया गया.

हरियाणा के सहकारिता मंत्री डाॅ. बनवारी लाल ने हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ लि. (एचडीडीसीएफ) द्वारा तैयार किए गए हल्दी दूध का शुभारंभ और वीटा फ्रेंचाइजी पॉलिसी की लांचिंग की तथा उनकी उपस्थिति में इन समझौता ज्ञापनों का आदान-प्रदान भी किया गया।

इस अवसर पर उन्होंने विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि डेयरी प्रसंघ आज के डेयरी परिदृश्य और वीटा ब्रांड की बिक्री और लाभप्रदता बढ़ाने के लिए विभिन्न पहलुओं पर काम करने में व्यस्त है। इस दिशा में प्रसंघ ने मुख्य पहलें की हैं जिसके तहत बूथों की अधिक संख्या,

वीटा बूथों पर उपभोक्ताओं की संख्या में वृद्धि और बूथ मालिकों और प्रसंघ को अधिक लाभ दिलवाना सुनिश्चित करना है. इन पहलों की श्रृंखला में, प्रसंघ अपने नए उत्पाद ‘‘हल्दी मिल्क विद ब्लैक पैपर स्वीट फ्लेवर मिल्क’’ की शुरूआत की है.

डेयरी प्रसंघ की लांच हुई फ्रेंचाइजी पॉलिसीइस कार्यक्रम में प्रसंघ ने अपनी फ्रेंचाइजी पॉलिसी की भी शुरूआत की है. यह नीति खुदरा नेटवर्क को मजबूत करने और वीटा ब्रांड तथा व्यापक बिक्री को बढ़ाने के लिए तैयार की गई है. इस नीति के तहत, प्रीबीबिल्ट शॉप/स्पेस के साथ या तो स्वामित्व वाली या किराए पर दी गई है, जिसे वीटा उत्पादों की बिक्री के लिए स्वीकृत किया जाएगा।

अब तक, हरियाणा में कुल 515 मौजूदा खुदरा स्टोर हैं. इस नीति के लॉन्च के साथ एनसीआर और क्वाड सिटी क्षेत्र (चंडीगढ़, पंचकूला, मोहाली और जीरकपुर) में बाजार हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए विशेष ध्यान दिया जाएगा. इसी प्रकार, न्यूनतम 100 वर्ग मीटर के दुकान क्षेत्र के पात्रता मानदंडों के साथ आवेदन आमंत्रित किया जाएंगे।

आवेदक को प्रसंघ को सुरक्षा राशि के रूप में 5,000 रूपए (रिफण्डेवल सिक्योरिटी) जमा करवाने होंगें और आवेदक को बूथ आवंटन समिति द्वारा आबंटित जाएगा। फ्रैंचाइजी को किसी भी रॉयल्टी का भुगतान करने या वीटा के साथ कोई राजस्व सांझा करने की आवश्यकता नहीं है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More