Home52 साल पहले दादा की हत्या, 28 साल के पोते ने अब...

52 साल पहले दादा की हत्या, 28 साल के पोते ने अब लिया बदला, दिल दहला देगी यह वारदात

Array

Published on

हरियाणा के मकड़ाैली कलां गांव में गुरुवार सुबह करीब साढ़े दस बजे रिटायर्ड फौजी 75 वर्षीय नवल सिंह की तलवार से वार कर हत्या कर दी। रोहतक के गांव मकड़ौली कलां में 52 साल पहले हुई दादा की हत्या का बदला लेने के लिए 28 साल के पोते ने 75 वर्षीय पड़ोसी रिटायर्ड फौजी की पेट में तलवार घोंपकर हत्या कर दी। इस बीच घर में खाना बना रही पूर्व फौजी की पुत्रवधू बचाने दौड़ी तो उस पर भी हमले की कोशिश कर आरोपी मौके से फरार हो गया।

हत्या का आरोप गांव मकड़ौली के संदीप उर्फ गोला पर है। हत्या के बाद पुलिस ने एसपी राहुल शर्मा के दिशा निर्देश में कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

52 साल पहले दादा की हत्या, 28 साल के पोते ने अब लिया बदला, दिल दहला देगी यह वारदात

आरोपितों ने बीच-बचाव करने आयी पुत्रवधु पर भी हमला किया गया। जिसकी सूचना सदर थाना पुलिस को दी गई। शुक्रवार को पुलिस आरोपी को कोर्ट में पेशकर रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। सदर थाना पुलिस को दी शिकायत में वीरेंद्र की पत्नी मीना ने बताया कि वह मकड़ौली कलां गांव की रहने वाली है। नवल सिंह नाते में संदीप का दादा लगता था। दोनों एक ही कुनबे के है। सीआईए-टू की टीम ने आरोपी संदीप को गिरफ्तार किया है।

52 साल पहले दादा की हत्या, 28 साल के पोते ने अब लिया बदला, दिल दहला देगी यह वारदात

मीना ने बताया कि गुरुवार सुबह साढ़े 10 बजे वह घर पर खाना बना रही थी। उसका ससुर पूर्व फौजी नवल सिंह घर के आंगन में बैठकर खाना खा रहा था। डीएसपी सज्जन कुमार ने प्रेसवार्ता में कहा कि करीब 52 साल पहले रिटायर्ड फौजी नवल सिंह व उसके परिजनों ने संदीप के दादा श्रीलाल की हत्या कर दी थी। हत्या का बदला लेने के लिए आरोपी ने पिछले कई दिन पहले प्लान बनाया था।

52 साल पहले दादा की हत्या, 28 साल के पोते ने अब लिया बदला, दिल दहला देगी यह वारदात

इसी रंजिश के चलते आरोपी ने गुरुवार को रिटायर्ड फौजी नवल सिंह के घर पहुंचा था। संदीप ने नवल सिंह के पेट में तलवार घोंपी। इसके बाद फिर से संदीप ने तलवार से और वार करने की कोशिश की जिस पर मीना चिल्ला उठी और संदीप को पकड़ने की कोशिश की। । उसकी हत्या का बदला लेने के ही रिटायर्ड फौजी को तलवार से वार करके मौत घाट उतार दिया गया। 72 वर्षीय नवल सिंह सेना से रिटायर्ड था, जो अपने घर में रहता था।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...