Pehchan Faridabad
Know Your City

देर शाम पुलिस के द्वारा नाकबंदी को हटाया, किसानों के साथ बात होने के बाद उठाया कदम

एक ओर जिले में जगह जगह गणतंत्र दिवस बड़े हष्षोउल्लास के साथ मनाया जा रहा था वहीं दूसरी पुलिस के द्वारा किसान की टैªक्टर रैली को रोकाने का हर मुमकिल कोशिश की गई। कोशिश का नतीजा यह रहा कि देर शाम करीब 7 बजे जिन भी रास्तों को ट्रक व अन्य साधनों के जरिए बंद किया हुआ था उसको खोल दिया गया। जिससे देर शाम बाद जो लोगों को थोड़ी बहुत परेशानी हो रही थी वह भी खत्म हो गई।
26 जनवरी यानि गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। सेक्टर 12 के हैलीपैड मैदान में जिलास्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में पुरातत्व एंव संग्रहालय राज्यमंत्री अनुप धानक ने ध्वजारोहण किया। जहां उन्होंने देश व जिले के सभी वीरों को याद किया और कहा कि इन वीरों के शहीदों की वजह से ही हम आज का यह दिन मनाते है।

एक ओर पुरातत्व एंव संग्रहालय राज्यमंत्री अनुप धानक वीरों को याद कर रहे थे। वहीं दूसरी ओर सीकरी बोर्डर पर पुलिस के द्वारा ट्रेक्टर रैली को रोकने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रही थी। करीब 10 बजे तब सेक्टर 12 में घ्वजारोहण हो रहा था तभी किसानों के द्वारा ट्रेक्टर रैली को शुरू किया गया। लेकिन पुलिस बल के चलते किसाल की ट्रेक्टर रैली सीकरी से आगे नहीं बढ़ पाई। ट्रेक्टर रैली को लेकर जिले के कई जगहों पर वाहनों के आवागमन को रोक गया तो कहीं ट्रकों के जरिए रास्ता बंद किया गया।

सुबह करीब 6 बजे से चंदावली पुल के चैराहे को सेक्टर 62 की ओर से बंद कर दिया। सेक्टर 62 की ओर से आने व जाने वाले रास्ते में कंटेनर को खड़ा करके रास्ता रोका गया। जिसके बाद मात्र एक ही वाहन लाइन से इधर से उधर जा पा रहा था। वाहनों को आवागन धीरे होने के बाद भी लोगों का कहना था कि उनको किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं हो रही है। वहीं सहुपुरा चैक पर भी ट्रकों को बाई पास रोड पर खड़ा करके रास्ते को रोका गया। जिससे लोगों को थोड़ा सा घूम कर आवागमन करना पड़ा। लेकिन देर शाम करीब 7 बजे दोनों जगहों के नाकों को हटा दिया गया। जिसके बाद लोगों के आवागन सुचारू रूप से चलने लगे।

बाटा पुल पर हुई दिक्कत


पुलिस ने बिना किसी सूचना के अचानक से बाटा पुल को बंद कर दिया। जिसकी वजह से बाटा पुल पर नेशनल हाइवे की ओर आने वाले वाहनों को पुल के उपर ही करीब एक घंटे के लिया रोक दिया गया। जिसकी वजह से वाहनों में बैठे मरीजों व लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। लेकिन पुल को अचानक बंद करने के बाद पुलिस के द्वारा वन वे वाली साइड पर टू वे साइड के वाहनों को आवागन शुरू कर दिया। जिससे पुल पर जाम देखने को मिला।

करीब एक घंटा पुल को बंद करने के बाद पुलिस के द्वारा पुलिस खोला ही था लेकिन दो से तीन वाहन निकलने के बाद उक्त पुल को दोबारा से उच्च अधिकारियों के द्वारा आए आदेश के बाद बंद कर दिया। जिससे दोबारा से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। लेकिन लोगों की परेशानी को देखते हुए पुलिस के द्वारा वन वे को टू वे में बदल दिया गया। जिससे लोगों के वाहन धीरे चल रहे थे लेकिन परेशानी नहीं हो रही थी। बाटा पुल को भी देर शाम दोनों साइड को खोल दिया गया।

वहीं पुलिस पीआरओ एसआई सुबे सिंह का कहना है कि किसानों की ट्रैक्टर रैली के संदर्भ में, राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस के मौके पर कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए फरीदाबाद पुलिस प्रशासन द्वारा ट्रैक्टर रैली को फरीदाबाद में आने के लिए अलाउड नहीं किया गया। दिन में छुटपुट घटनाओं के उपरान्त, पुलिस और किसानों के बीच हुुई बातचीत के बाद किसान अपने ट्रैक्टर रैली को वापस पलवल ले गए। एनएच 2 पर वाहनों कि ट्रैफिक सुचारू रूप से चल रहा हैं। कानून व्यवस्था के साथ खिलवाड़ करने वालों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More