Online se Dil tak

किसानों की ट्रैक्टर परेड से हरियाणा में ट्रैक्टर उद्योग के हुए बल्ले बल्ले, रैली के लिए 6000 ट्रैक्टर खरीद डाले

केंद्र सरकार द्वारा पारित किया गया कृषि बिल और इसका विरोध प्रदर्शन शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जिससे यह अछूता रह गया था। अपनी मांग को मनवाने के लिए किसानों द्वारा किस हद तक हिम्मत दिखाई गई है।

इसका अंदाजा सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे फोटो को देखकर लगाया जा सकता है। ऐसे में अब यह बात की जाए कि इस रैली से किसका फायदा हुआ है, तो आपको जानकर हैरान होगा कि इस रैली में सर्वाधिक फायदा हरियाणा को करवाया है।

किसानों की ट्रैक्टर परेड से हरियाणा में ट्रैक्टर उद्योग के हुए बल्ले बल्ले, रैली के लिए 6000 ट्रैक्टर खरीद डाले
किसानों की ट्रैक्टर परेड से हरियाणा में ट्रैक्टर उद्योग के हुए बल्ले बल्ले, रैली के लिए 6000 ट्रैक्टर खरीद डाले

दरअसल, किसान पहले ही गणतंत्र दिवस के अवसर पर ट्रैक्टर रैली के माध्यम से सरकार को चेतावनी दे चुके थे। ऐसे में किसानों को ट्रैक्टरों की आवश्यकता तो होनी ही थी तो बस फिर क्या था इस आवश्यकता ने ट्रैक्टर उद्योग को चमका दिया है।

जानकारी के मुताबिक परेड में शामिल होने के लिए पिछले दो माह में करीब 6000 किसानों ने नए ट्रैक्टरों की खरीद कर डाली है। ट्रैक्टरों की बिक्री में पिछले साल के मुकाबले 17.35 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। नए ट्रैक्टर खरीदने वाले हरियाणा के किसानों का कहना है कि कृषि कानूनों के खिलाफ ट्रैक्टर परेड उनके लिए किसी त्योहार से कम नहीं है।

किसानों की ट्रैक्टर परेड से हरियाणा में ट्रैक्टर उद्योग के हुए बल्ले बल्ले, रैली के लिए 6000 ट्रैक्टर खरीद डाले
किसानों की ट्रैक्टर परेड से हरियाणा में ट्रैक्टर उद्योग के हुए बल्ले बल्ले, रैली के लिए 6000 ट्रैक्टर खरीद डाले

गौरतलब, इस बात से सब वाकिफ है कि तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब और हरियाणा के किसान पिछले दो माह से सड़कों पर हैं। जिसके बाद दिल्ली में ट्रैक्टर परेड की किसान संगठनों की घोषणा के बाद हरियाणा में ट्रैक्टर उद्योग में भारी उछाल आया है।

किसानों ने ट्रैक्टर बनाने वाली नामी 14 कंपनियों से नए ट्रैक्टरों की खरीद की है। हरियाणा के प्रमुख डीलर भी ट्रैक्टरों की हो रही बिक्री को लेकर खासे उत्साहित हैं।

Read More

Recent