HomeFaridabadअगर कल उड़ जाए, बिजली के फ्यूज तो आ सकती है समस्या,...

अगर कल उड़ जाए, बिजली के फ्यूज तो आ सकती है समस्या, क्योंकि बिजली कर्मचारी की है हड़ताल

Published on

बिजली वितरण प्रणाली का निजीकरण करने के लिए बजट सत्र में बिजली अमेंडमेंट बिल 2021 पारित करने के खिलाफ बिजली कर्मचारी कल 3 फरवरी को हड़ताल करेंगे। इस हड़ताल का इंजीनियरों ने भी समर्थन करने का फैसला लिया है।
इसी के चलते एससी नरेश का कहना है कि उनकी ओर से पूरी तैयारी कर ली गई है। अगर हड़ताल के दौरान कोई बिजली की समस्या आती है तो वह प्राइवेट ठेकेदारों से ठीक करवाने की कोशिश करेंगें। उन्होंने बताया कि बिजली विभाग के कंट्रोल रूम में भी प्रर्याप्त संख्या में स्टाॅफ की नियुकित की है। वह हड़ताल को लेकर पूरी तरह से तैयार है।

अगर कल उड़ जाए, बिजली के फ्यूज तो आ सकती है समस्या, क्योंकि बिजली कर्मचारी की है हड़ताल

नेशनल कोर्डिनेशन कमेटी आफ इलैक्ट्रिसिटी इंम्पलाईज एंड इंजीनियर के संयोजक व सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा ने बताया कि अभियंता भी हड़ताल का समर्थन करते हुए कार्य बहिष्कार करेंगे। बिजली कर्मचारियों की प्रस्तावित हड़ताल और अभियंताओं के कार्य बहिष्कार के चलते बुधवार को बिजली कार्यालयों में पब्लिक डिलिंग से संबंधित कार्यों पर प्रभाव पड़ेगा। हड़ताल के चलते बिजली बिलों व बिजली खराबी शिकायतों के निवारण में परेशानियां पैदा होगी। उन्होंने कहा कि हड़ताल में आवश्यक सेवाओं को बाधित नहीं किया जाएगा। अगर किसी कारण आवश्यक सेवाएं बाधित हुई तो कर्मचारी हड़ताल पर रहते हुए उन्हें बहाल करने का कार्य करेंगे। उन्होंने यह ऐलान बदरौला सब डिवीजन में आयोजित गेट मीटिंग में कर्मचारियों को संबोधित करते हुए किया। मंगलवार को भी जन संपर्क अभियान के तहत कर्मचारियों से उनके कार्यस्थलों पर पहुंच कर हड़ताल में शामिल होने का आग्रह किया गया। मीटिंग में प्रदेश उपाध्यक्ष सतपाल नरवतए कृष्ण कुमार, गिरीश राजपूत , सुरेन्द्र शर्मा व असरफ खान आदि मौजूद थे।

अगर कल उड़ जाए, बिजली के फ्यूज तो आ सकती है समस्या, क्योंकि बिजली कर्मचारी की है हड़ताल

सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा से संबंधित आल हरियाणा पावर कारपोरेशनज वर्कर यूनियन के केन्द्रीय कमेटी के सदस्य शब्बीर अहमद गनीए सर्कल सचिव अशोक कुमारए रामचरणए यूनिटों के प्रधान रमेश तेवतियाए भूपसिंहए सतीश छाबड़ी व दिनेश शर्मा ने बताया कि बुधवार को हड़ताली कर्मचारी करके अपने अपने कार्यालयों पर केन्द्र व राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे। इसके बाद हड़ताली कर्मचारी सेक्टर 23 सर्कल कार्यलय पर एकत्रित होकर आम सभा आयोजित करेंगे। जिसको सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा व वरिष्ठ उपाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री संबोधित करेंगे। आम सभा के बाद बिजली कर्मचारी शहर में जुलूस निकालेंगे। आम सभा में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के बेनर तले अन्य विभागों के कर्मचारी भी शामिल होंगे।

हड़ताल की मांगें निम्न हैं

हड़ताल की प्रमुख मांगों में केन्द्र सरकार द्वारा बिजली वितरण प्रणाली का निजीकरण करने के अमेंडमेंट बिल को रद्द करने और पुरानी पेंशनएडीए व एलटीसी बहालीए आनलाइन ट्रांसफर पालिसी को रद्द करनेएठेका प्रथा समाप्त कर ठेका कर्मियों को सीधे निगमों के पे.रोल पर लेनेए कच्चे कर्मचारियों को पक्का करनेए पक्का होने तक समान काम समान वेतन व सेवा सुरक्षा प्रदान करने आदि है।

अगर कल उड़ जाए, बिजली के फ्यूज तो आ सकती है समस्या, क्योंकि बिजली कर्मचारी की है हड़ताल

सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा से संबंधित आल हरियाणा पावर कारपोरेशनज वर्कर यूनियन के केन्द्रीय कमेटी के सदस्य शब्बीर अहमद गनीए सर्कल सचिव अशोक कुमारए रामचरणए यूनिटों के प्रधान रमेश तेवतियाए भूपसिंहए सतीश छाबड़ी व दिनेश शर्मा ने बताया कि बुधवार को हड़ताली कर्मचारी करके अपने अपने कार्यालयों पर केन्द्र व राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे। इसके बाद हड़ताली कर्मचारी सेक्टर 23 सर्कल कार्यलय पर एकत्रित होकर आम सभा आयोजित करेंगे। जिसको सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा व वरिष्ठ उपाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री संबोधित करेंगे। आम सभा के बाद बिजली कर्मचारी शहर में जुलूस निकालेंगे। आम सभा में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के बेनर तले अन्य विभागों के कर्मचारी भी शामिल होंगे।

हड़ताल की मांगें निम्न हैं

हड़ताल की प्रमुख मांगों में केन्द्र सरकार द्वारा बिजली वितरण प्रणाली का निजीकरण करने के अमेंडमेंट बिल को रद्द करने और पुरानी पेंशनएडीए व एलटीसी बहालीए आनलाइन ट्रांसफर पालिसी को रद्द करनेएठेका प्रथा समाप्त कर ठेका कर्मियों को सीधे निगमों के पे.रोल पर लेनेए कच्चे कर्मचारियों को पक्का करनेए पक्का होने तक समान काम समान वेतन व सेवा सुरक्षा प्रदान करने आदि है।

सुभाष लांब

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...