HomeCrimeकबाड़ा बीनने वाले की हत्या, हत्या करने के बाद शव को जलाने...

कबाड़ा बीनने वाले की हत्या, हत्या करने के बाद शव को जलाने की कोशिश की

Published on

दोस्तों के संघ मौज मस्ती करने के बाद कबाड़े का काम करने वाले युवक की हत्या करने का मामला सामने आया है। हत्या करने के बाद शव को जलाने का भी प्रयास किया गया। महामारी के दौरान खोखा बंद किया हुआ था। जिसके चलते उसमें दिन के कबाड़ा बीनने के बाद शाम को युवक आकर सोता था।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार तिरखा काॅलोनी निवासर कुंदन ने बताया कि वह उक्त पते पर रहता है।

कबाड़ा बीनने वाले की हत्या, हत्या करने के बाद शव को जलाने की कोशिश की

लेकिन 3 साल से तिगांव रोड टेगोर मोड़ पर अण्डे की स्टाल लगाता है। उनकी स्टोल के साथ तिरखा काॅलोनी निवासी चन्दन का खोखा है। चंदन उक्त खोखे पर चाउमीन बर्गर का काम करता था। लेकिन महामारी के दौरान उक्त खोखा करीब 8 महीने से बंद पड़ हुआ था। उक्त खाली खोखे में रात को शिव हरिजन कालोनी का निवासी सागर आकर सोता था। जो दिन में कूडा बीनने का काम करता था और नशे का भी आदि था। उसके साथ उसके अन्य दोस्त भी अक्सर रात को आकर खाते पीते थे और नशा भी करते थे। जिनमें आपस मे कई बार रात मे लड़ाई झगडे़ भी होते थे।

कबाड़ा बीनने वाले की हत्या, हत्या करने के बाद शव को जलाने की कोशिश की

उन्होंने बताया कि वह रोज रात को 10 बजे खोखा बन्द करके चला जाता है। सागर कबाड़ा बीनने के बाद राजू कबाड़ी को सामान बेचता है। 2 जनवरी को भी रात 10 बजे अपना खोखा बन्द करके चला गया था। तो उसके कुछ समय के बाद मुझे बच्चू सिंह रावत डेरी वाले ने बताया कि तेरे खोखे के साथ में आग लग गई हैं। जिस पर मैं तुरंत अपने खोखे पर पहुचां। जहां पर देखा कि मेरे साथ वाले चंदन के खोखे में आग लगी हुई है। जिसमें रात को सागर उर्फ दातू सोता था। वह खोखा आग से पूरी तरह जल चुका था और उसकी आग मे एक नौजवान व्यक्ति की नाश भी पूरी तरह से जली हुई थी। जिसके दोनों पैर बचे हुए थे और उसके खोखे के साथ में बहुत सारा खून भी पड़ा हुआ था।

कबाड़ा बीनने वाले की हत्या, हत्या करने के बाद शव को जलाने की कोशिश की

जो पहली नजर मे देखने से ऐसा लग रहा था कि यहां पर किसी व्यक्ति ने इस नौजवान लड़के को किसी चीज से मारकर चोंटें पहुंचाई हैं। जिससे उक्त नौजवान की हत्या हो गई। हत्या होने के बाद सबुत को मिटाने के उदेश्य से चन्दन के खोखे में डालकर आग लगाई हैं। जो उक्त नौजवान व्यक्ति की शिनाख्त नहीं हो पा रही थी। लेकिन आग में पैर नहीं जलने की वजह से उक्त नौजवान ने लाल रंग का लोयर पहना हुआ था। लोयर ने उक्त नौजवान की पहचान हो पाई। कुंदन ने बताया कि वह नौजवान सागर भी हो सकता है। सागर भाई आकाश जो मुझेड़ी गांव में किराये के मकान मे रहकर मजदुरी करता है। वह भी अक्सर अपने भाई से मिलने खोखे पर आता था। उस खोखे के स्वामित्व को लेकर सागर भी अपने दोस्तों के साथ कई बार रात को झगडे़ भी करता है। शायद इसी वजह से सागर की हत्या की गई हो। जांच अधिकारी बिजेंद्र सिंह ने बताया कि पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जल्द ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

Latest articles

Faridabad के स्कूलों के ड्रेसकोड में हुआ बदलाव, अब से ये पहनकर स्कूल जाएंगे छात्र

शहर में बढ़ते हुए डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया के प्रकोप को देखते हुए शिक्षा...

Faridabad की ये बेटी चीन में लहराएगी देश का परचम, यहां जानें कौन है वो बहादुर बेटी

हमारे देश के बेटे और बेटियों की बात ही कुछ ओर हैं, वह देश...

Faridabad की इस विधानसभा की 20 सड़कें होगी दुरूस्त, जनता को मिलेगी सहूलियत

शहर के जो लोग तिगांव क्षेत्र की टूटी हुई सड़कों से तंग हैं, ये...

बेमौसमी बारिश ने बढ़ाई Faridabad की जनता की परेशानी, इन मार्गों पर घंटों तक फसे रहे वाहन

अभी हाल ही में हुई बेमौसमी बरसात से शहर की जनता को भीषण गर्मी...

More like this

Faridabad के स्कूलों के ड्रेसकोड में हुआ बदलाव, अब से ये पहनकर स्कूल जाएंगे छात्र

शहर में बढ़ते हुए डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया के प्रकोप को देखते हुए शिक्षा...

Faridabad की ये बेटी चीन में लहराएगी देश का परचम, यहां जानें कौन है वो बहादुर बेटी

हमारे देश के बेटे और बेटियों की बात ही कुछ ओर हैं, वह देश...

Faridabad की इस विधानसभा की 20 सड़कें होगी दुरूस्त, जनता को मिलेगी सहूलियत

शहर के जो लोग तिगांव क्षेत्र की टूटी हुई सड़कों से तंग हैं, ये...