HomeFaridabadकैसे होगा शहर साफ, जब कर्मचारियों के पास ही नहीं है झाड़ू...

कैसे होगा शहर साफ, जब कर्मचारियों के पास ही नहीं है झाड़ू और कूड़ा उठाने वाली रेहड़ी

Published on

स्वच्छता सर्वेक्षण के तहत फरीदाबाद अपनी एक अच्छी छवि बनाने के लिए भरसक प्रयास कर रहा है परंतु अगर यह कहा जाए कि नगर निगम कर्मचारियों के पास शहर को साफ करने के लिए झाड़ू ही नहीं है तो आप सोच में पड़ जाएंगे कि बिना झाड़ू के शहर को कैसे साफ किया जाएगा। जी हां आपने बिल्कुल सही सुना फरीदाबाद सफाई कर्मचारियों के पास शहर को साफ करने के लिए झाड़ू ही नहीं है।

दरअसल नगर निगम कर्मचारियों के पास शहर को साफ करने के लिए पूरे संसाधन ही नहीं है। नगरपालिका कर्मचारी संघ ने नगर निगम आयुक्त यशपाल यादव से मुलाकात कर 3000 झाड़ू दिलाने की मांग की है। नगर पालिका कर्मचारी संघ के प्रधान नरेश शास्त्री ने बताया कि बिना झाड़ुओं के शहर की सफाई करने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। अगर स्वच्छता सर्वेक्षण में फरीदाबाद की रैंकिंग खराब आती है तो इसका दोष सफाई कर्मचारियों का ना दिया जाए।

कैसे होगा शहर साफ, जब कर्मचारियों के पास ही नहीं है झाड़ू और कूड़ा उठाने वाली रेहड़ी

इतना ही नहीं उन्होंने बताया कि नगरपालिका कर्मचारी संघ ने तत्कालीन नगर निगम आयुक्त यश गर्ग से भी इस विषय में मुलाकात की है और उनसे 3000 झाड़ू और 300- 300 रिक्शा में रेहड़ियों की मांग की गई थी। उस समय उन्होंने कर्मचारियों को आश्वासन दिया कि उनकी मांगों को जल्द पूरा कर दिया जाएगा परंतु अभी तक सफाई कर्मचारियों को किसी भी प्रकार का संसाधन उपलब्ध नहीं कराया गया है।

सफाई कर्मचारियों का कहना है कि शहर भर में लोगों को सफाई के लिए जागरूक किया जा रहा है परंतु बिना संसाधनों के हम शहर भर को कैसे साफ कर सकते हैं। नगर निगम आयुक्त इस बात पर विशेष ध्यान देना चाहिए और जल्द से जल्द सभी संसाधनों की आपूर्ति सफाई कर्मचारियों को करवानी चाहिए।

कैसे होगा शहर साफ, जब कर्मचारियों के पास ही नहीं है झाड़ू और कूड़ा उठाने वाली रेहड़ी


वहीं नगर निगम आयुक्त यशपाल यादव का कहना है कि सफाई कर्मचारियों की सभी मांगों को जल्द से जल्द पूरा कर दिया जाएगा और शहर की सफाई में किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरती जाएगी। स्वच्छता सर्वेक्षण में शहर की स्वच्छता रैंकिंग घटने नहीं दिया जाएगा।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...