HomeFaridabadकैसे पढ़ेंगे बच्चें जब स्कूल ही नही है सुरक्षित, जिले के इतने...

कैसे पढ़ेंगे बच्चें जब स्कूल ही नही है सुरक्षित, जिले के इतने स्कूल कंडम घोषित

Published on

जिले में सरकारी स्कूलों की कंडम और जर्जर अवस्था बच्चों की जान के साथ खेल रही है। सरकारी स्कूलों की जर्जर और कंडम स्थिति को लेकर ऑल इंडिया पेरेंट्स एसोसिएशन आईपा ने पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी, जिस पर याचिका के संबंध में अतिरिक्त मुख्य सचिव शिक्षा ने सभी जिलों के जिला शिक्षा अधिकारी से रिपोर्ट मांगी थी उस पर जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय ने रिपोर्ट भेजकर फरीदाबाद जिले के 47 सरकारी स्कूलों की बिल्डिंग व कमरे को अनसेफ बताया गया है।

शनिवार को आईपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व उच्चतम न्यायालय के वरिष्ठ एडवोकेट अशोक अग्रवाल ने सरकारी प्राइमरी स्कूल तिगांव, सीनियर सेकेंडरी सेहतपुर,ओल्ड फरीदाबाद,आदि स्कूलों की कंडम घोषित की गई स्कूल बिल्डिंग व कमरों का और आईपा के प्रयास से सीनियर सेकेंडरी स्कूल अनंगपुर, तिगांव, फरीदपुर, दयालपुर में बनाई जा रही हाईटेक स्कूल बिल्डिंग का निरीक्षण किया।

कैसे पढ़ेंगे बच्चें जब स्कूल ही नही है सुरक्षित, जिले के इतने स्कूल कंडम घोषित

मौके पर इन स्कूलों की स्कूल मैनेजमेंट कमेटी के सदस्यों ने अशोक अग्रवाल के प्रयासों की सराहना करते हुए उनका स्वागत किया। आईपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश शर्मा ने कहा है कि आइपा की ओर हरियाणा के सरकारी स्कूलों की जर्जर बिल्डिंग व कमरों को नया बनाने के लिए दायर की गई याचिका में फरीदाबाद के जिन 47 सरकारी स्कूलों की बिल्डिंग व कमरे को कंडम घोषित किया गया है|


उनका नाम याचिका में शामिल करके उन सभी में शीघ्र ही नई स्कूल बिल्डिंग बनाने के लिए हाईकोर्ट के माध्यम से हरियाणा सरकार से अपील की जाएगी। आईपा की ओर से अतिरिक्त मुख्य सचिव शिक्षा डॉ महावीर सिंह को भी इस बारे में पत्र लिखा गया है। गौरतलब है कि आईपा की टीम प्रत्येक जिले में सरकारी स्कूलों में जाकर जर्जर व अनसेफ बिल्डिंग व कमरों का पता लगा रही है और उनके बारे में सरकार को बताकर उचित कार्रवाई करने को कह रही है।

कैसे पढ़ेंगे बच्चें जब स्कूल ही नही है सुरक्षित, जिले के इतने स्कूल कंडम घोषित

कार्रवाई न होने पर हाई कोर्ट का सहारा ले रही है। कैलाश शर्मा ने सरकारी स्कूलों के प्रिंसिपल व हेडमास्टर्स से कहा है कि वह अपने स्कूल की जर्जर बिल्डिंग व अनसेफ कमरों की संख्या के बारे में अपने जिले के जिला शिक्षा अधिकारी को पत्र लिखकर अवगत कराएं और आईपा को भी जानकारी दें। जिससे सरकार से उचित कार्रवाई कराई जा सके।

47 स्कूलों की सूची
बल्लभगढ़ ब्लॉक के प्राइमरी व मिडिल स्कूल
सीकरी ,जवां, कोराली, अटेली, अटेरना, फतेहपुर तगा, मोहना, नंगला मोटूका, नहरावली नरियाला , अजरोंदा,नरहेराखेड़ा, सिकरोना, शाहपुर खुर्द, गड़खेड़ा,वरिष्ठ माध्यमिक भनकपुर, फतेहपुर बिल्लौच, छांयसा फरीदाबाद ब्लॉक के प्राइमरी व हाईस्कूल, तिलपत, मांगर, पावटा, प्याला, मोहिला, हरफला, कबूलपुर बांगर, आलमपुर, बदरपुर सेद, बडोली, भूआपुर , गाजीपुर, सागरपुर , डबुआगांव, वरिष्ठ माध्यमिक अरुआ, धौज, जसाना, ओल्ड फरीदाबाद,खेड़ीकलां आदि शामिल हैं।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...