Online se Dil tak

6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल

अगर आप रोजना नीलम पुल के रास्ते आवागम करते है तो अब आपको कम से कम आधा घंटा पहले घर से या ऑफिस से निकलना होगा। क्योंकि अगले एक हफ्ते तक नीलम पुल को बंद किया गया है।

जिसकी वजह से एनआईटी आने जाने वाले लोगों को करीब 6 किलो मीटर घूम कर वाईएमसीए चैक से यू टर्न लेकर बाटा पुल के रास्ते एनआईटी में प्रवेश करना होगा।

6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल
6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल


22 अक्टूबर को नीलम पुल के नीचे कूड़ें में आग लगने की वजह से नीलम चैक से अजरौंदा चैक वाली साइड क्षतिग्रस्त हो गई थी। जिसकी वजह से उसको पूरी तरह से बंद कर दिया था।

6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल
6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल

इस घटना को करीब साढ़े तीन महीने बीत चके है, लेकिन उसके बावजूद भी नीलम पुल का जो मरम्मत का कार्य था। वह बहुत ही धीरे चल रहा था। जिसकी वजह से लोगों को पुल वन साइड होने की वजह से जाम से गुजरना पड़ता था।

लेकिन अब उस जाम से भी लोगों को पुरी तरह से निजाम मिल जाएगी। लेकिन उसके लिए लोगों को अभी एक हफ्ता ओर परेशानी को झेलना पड़ेगा।

6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल
6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल


6 किलो मीटर का लगेगा चक्कर


अगर आप एनआईटी एरिया में रहते है तो आपको कुछ दिनों के लिए 6 किलो मीटर ज्यादा चलना होगा। एनआईटी जाने के लिए पहले लोगों के द्वारा नीलम पुल का इस्तेमाल किया जाता था। लेकिन अब दिल्ली की ओर से आने वाले लोगों को वाईएमसीचैक से यू टर्न लेकर बाटा पुल के रास्ते एनआईटी में प्रवेश करना होगा।

6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल
6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल

इसके अलावा जो लोग बल्लभगढ़ के रास्ते एनआईटी से आ रहे वह बाटा पुल के रास्ते जा सकते है। इसके अलावा दिल्ली से आने वाले लोग ओल्ड फरीदाबाद के अंडर पास से भी सेक्टर 21 और रेलवे रोड के रास्ते एनआईटी क्षेत्र में प्रवेश कर सकते है। लेकिन इसके लिए उनको अभी सुविधा के अनुसार रास्ते चुनने होंगें।

ऑटो का भी बढ़ सकता है किराया


अगर आप प्राइवेट ट्रांसपोर्ट से सफर करते है तो आपको एनआईटी की ओर जाने के लिए ज्यादा पैसे देने होंगे। क्योंकि नीलम पुल बंद होने की वजह से ऑटो चालक सवारियों को बाटा पुल के रास्ते होते हुए एनआईटी एरिया में लेकर जाएंगे। इसी वजह से आम जनता को ज्यादा पैसे देने पड़ेंगे। लोगों को एक हफ्ते तक अपने जेब ज्यादा खर्च करनी पड़ेगी।

6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल
6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल

ज्यादा पुलिस की हुई तैनाती


एसएचओ ट्रैफिक राजेश ने बताया कि सोमवार दोपहर के बाद से नीलम पुल के पुरी तरह से बंद कर दिया गया। जिसकी वजह से नीलम पुल का सारा ट्रैफिक बाटा पुल और ओल्ड फरीदाबाद अंडर पास पर डाईवट हो गया है।

बाटा पुल और अंडर पास पर किसी प्रकार कोई परेशानी लोगों को ना हो उसके लिए ज्यादा पुलिस बल की नियुक्ति की गई है। जो जाम की स्थिति को संभालने के लिए पूरी तरह से कार्य करेगी।

उन्होंनें बताया कि सुबह व शाम के समय ज्यादा वाहनों का आवागमन होता है इसलिए दोनों समय ज्यादा ध्यान दिया जाएगा। करीब एक हफ्ते के लिए नीलम पुल का बंद किया गया है। मरम्मत का काम पूरा होने के बाद पुल को खोल दिया जाएगा।

6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल
6 किलो मीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना होगा एनआईटी, एक हफ्ते के लिए बंद हुआ नीलम पुल

रोड सेफ्टी ऑर्गेनाइजेशन भी कर रही है काम


रोड सेफ्टी ऑर्गेनाइजेशन वाइस प्रेजिडेंट एस के शर्मा ने बताया कि उनकी टीम दोनों जगह पर समय समय पर पुलिस के साथ ट्रैफिक को चलाने में मदद करेगी। क्योंकि उनकी टीम लोगों की सुरक्षा के लिए हमेशा मौजूद रहते है।

Read More

Recent