Pehchan Faridabad
Know Your City

वैश्विक आपदा भारत के लिए बनी अवसर, पीपीई किट निर्माण करने वाला दूसरा सबसे बड़ा देश बना भारत।

कोरोना वायरस के चलते किए गए देशव्यापी लॉक डाउन में जहां पूरे भारत देश की अर्थव्यवस्था रुकी हुई है वहीं देश के प्रधानमंत्री के कहे अनुसार आत्मनिर्भर भारत बनने की ओर भी भारत तेजी से कदम बढ़ा रहा है जिसके चलते भारत ने स्वास्थ्य व्यवस्था के स्तर में अपने बल पर काफी सुधार किए हैं और इस क्षेत्र में कई कीर्तिमान भी स्थापित किए हैं।

लॉक डाउन के बीते दो महीने से भी कम समय के भीतर भारत व्यक्तिगत सुरक्षा परिधान (पीपीई) उत्पादन करने वाला दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक देश बन गया है। जिसके बारे में 21 मई को भारत सरकार द्वारा जानकारी दी गई।

चीन पीपीई का सबसे बड़ा निर्माता है। कपड़ा मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि उसने पीपीई की गुणवत्ता और मात्रा दोनों में सुधार करने के लिए कई कदम उठाए हैं। यही कारण है कि भारत दो महीने से भी कम समय में पीपीई का दूसरा सबसे बड़ा निर्माता बन गया है। अब भारत इस मामले में सिर्फ चीन से पीछे है।

बयान में कहा गया कि मंत्रालय ने यह सुनिश्चित करने के लिए भी कदम उठाए हैं कि पूरी आपूर्ति श्रृंखला में केवल प्रमाणित कंपनियां ही पीपीई की आपूर्ति करें। अब कपड़ा समिति, मुंबई भी स्वास्थ्य कर्मचारियों और अन्य कोविड-19 योद्धाओं के लिए आवश्यक पीपीई का परीक्षण और प्रमाणन करेगी।

बता दें देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में पिछले कुछ दिनों में बेहद तेजी से इजाफा हुआ है। कई दिनों से लगातार रोजाना 6000 हजार के करीब मरीज पॉजिटिव मिल रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, अब तक देश में 1,18,359 कोरोना वायरस के मरीज मिल चुके हैं।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More