HomeCrimeफरीदाबाद के निजी अस्पताल में महिला स्टाफ ने डॉक्टर पर लगाया यौन...

फरीदाबाद के निजी अस्पताल में महिला स्टाफ ने डॉक्टर पर लगाया यौन उत्पीडन का आरोप, एनसीडब्ल्यू ने दर्ज कराई शिकायत।

Published on

लॉक डाउन के बीच जहां डॉक्टरों को भगवान से भी बढ़कर दर्जा दिया जा रहा है जनता द्वारा उन पर पुष्प वर्षा कर उनका स्वागत कर रहे हैं वही फरीदाबाद के क्यूआरजी अस्पताल से डॉक्टर की छवि को दागदार करने वाला एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें एक डॉक्टर द्वारा अस्पताल की ही महिला स्टाफ सदस्य के साथ यौन उत्पीड़न करने की बात कही जा रही है।

इस मामले की निंदा करते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग द्वारा कहा गया कि उन्हें ट्विटर पर एक शिकायत प्राप्त हुई है जिसमें 19 अप्रैल को फरीदाबाद सेक्टर 20 के क्यूआरजी अस्पताल के एक डॉक्टर द्वारा साथ की महिला स्टाफ सदस्य द्वारा यौन प्रताड़ना की बात कही जा रही है।

फरीदाबाद के निजी अस्पताल में महिला स्टाफ ने डॉक्टर पर लगाया यौन उत्पीडन का आरोप, एनसीडब्ल्यू ने दर्ज कराई शिकायत।

एनसीडब्ल्यू का कहना है कि उन्हें प्राप्त हुई शिकायत में ख गया है कि अस्पताल का एक डॉक्टर द्वारा 19 अप्रैल को एक स्टाफ महिला सदस्य के साथ यौन उत्पीडन किया गया है। साथ ही शिकायत में बताया गया कि डॉक्टर अस्पताल की अन्य महिला स्टाफ सदस्यों के साथ भी यौन उत्पीडन करता है।

आरोपी डॉक्टर के खिलाफ कई बार अस्पताल प्रशासन को शिकायत दी गई है लेकिन इस मामले में अस्पताल प्रशासन द्वारा आरोपी डॉक्टर के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई और प्रत्येक बार शिकायत करने पर शिकायतकर्ता को उसके वर्तमान प्रोफ़ाइल से हटा दिया गया और पदावनत कर दिया गया।

आयोग ने कहा कि यह मामला कार्यस्थल (रोकथाम, निषेध और निवारण) अधिनियम, 2013 में महिलाओं के यौन उत्पीड़न कानून अनुसार दंडनीय है जिसपर जल्द से जल्द कार्यवाही की जनाई चाहिए।

फरीदाबाद के निजी अस्पताल में महिला स्टाफ ने डॉक्टर पर लगाया यौन उत्पीडन का आरोप, एनसीडब्ल्यू ने दर्ज कराई शिकायत।

साथ ही मामले की गंभीरता को देखते हुए आयोग ने क्यूआरजी एंटरप्राइजेज लिमिटेड की निदेशक संगीता राय गुप्ता से सवाल पूछते हुए लिखा है कि क्या आंतरिक समिति इस शिकायत की जांच कर रही है।

साथ ही यह भी पूछा है कि यदि आंतरिक समिति कार्यवाही कर रही है तो डॉक्टर के दोषी पाए जाने पर आरोपी डॉक्टर के खिलाफ का निर्णय लिया जाएगा साथ ही आयोग ने अस्पताल से उनके द्वारा कि गई कार्यवाही की विस्तृत रिपोर्ट भी मांगी है।

फरीदाबाद के निजी अस्पताल में महिला स्टाफ ने डॉक्टर पर लगाया यौन उत्पीडन का आरोप, एनसीडब्ल्यू ने दर्ज कराई शिकायत।

इस प्रकार के मामले ना केवल किसी व्यक्ति के पेशे को दागदार करते हैं साथ ही मानवता को भी शर्मसार कर देते हैं। क्योंकि डॉक्टर का पेशा एक ऐसा पेशा है जिस पर कोई भी व्यक्ति आंख मूंदकर भरोसा कर सकता है वहीं इस महामारी के दौर में डॉक्टर से भरोसेमंद व्यक्ति जनता के लिए कोई नहीं है। इस प्रकार की घटना सामने आना लोगों के मन में डॉक्टरों के छवि के खिलाफ शंका पैदा कर सकती है।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...