Pehchan Faridabad
Know Your City

अगर इस चौकी व थाने में करनी है कोई एफआईआर तो काटने पड़ेंगें चक्कर…

सीपी ओ पी सिंह द्वारा पाठशाला ली गई थी, जिसमें उसने पुलिसकर्मी को पाठ पढ़ाया था कि वह लोगों की हर समस्या का समाधान तुंरत से तुंरत करें। इसके अलावा अगर किसी को पुलिस चौकी व थाने में कोई शिकायत देनी है।

तो उसका भी पूरा सहयोग किया जाए। लेकिन जिले का एक ऐसा थाना व चौकी है जिसमें एक व्यक्ति को चोरी की एफआईआर दर्ज करवाने के लिए 3 दिनों तक चक्कर लगाने पड़े।

क्या था मामला

सेक्टर 19 निवासी शुभ्रज्योति बनर्जी ने बताया कि वह दिनांक 15.02.21 को करीब 8.30 अजंता टिंबर मैन मथुरा रोड ओल्ड फरीदाबाद मैन रोड पर अपनी गाड़ी नंबर डीएल 8सीजेड 4539 पार्क करके अंदर गली में सरस्वती पूजा का सामान लेने के लिए गए था। सिर्फ 5 मिनट के बाद वह वापिस आ गए।

उन्होंने बताया कि उक्त जगह पर कई सारी कारें पहले से खड़ी थी। इसलिए उन्होंने भी अपनी कार वहां पर पार्क कर दी। लेकिन वापिस आने के बाद उन्होंने पाया कि गाड़ी Duster DL8CZ4539 का ड्राईवर साईड की पिछले वाली खिड़की का कांच टुटा हुआ था और गाड़ी के अन्दर बैग में रखा सारा सामान चोरी हो गए। उक्त बैग में company द्वारा दिया गया Laptop HP model HP Elite Book 840 G&S sr no& 5CG1965 FCS बैग में रखा credit card, Debit card, voter ID व 10,000 रुपये नगद थे। सभी सामान को कोई अज्ञात व्यक्ति चोरी करके ले गया।

तीन दिन में दर्ज हुई चोरी की एफआईआर
अगर आपको पुलिस चौकी सेक्टर 16 ए और थाना सेक्टर 17 में कोई घटना की एफआईआर को दर्ज करवाना है , तो आपको काफी मशक्कत करनी होगी। शुभ्रज्योति बनर्जी ने बताया कि चोरी होने के तुंरत बाद ओल्ड फरीदाबाद पुल के नीचे बने ट्रैफिक बुथ को दी। जिसके बाद वहां मौजूद पुलिसकर्मी ने कहा कि उनको 100 नंबर पर काॅल करना चाहिए। उन्होंने तुरंत 100 नंबर पर काॅल किया लेकिन फोन नहीं मिला।

जिसके बाद उक्त पुलिसकर्मी के द्वारा उनको पुलिस चौकी सेक्टर 16 ए का नंबर दिया गया। जिसके बाद पुलिस चौकी की तरफ से पुलिसकर्मी के द्वारा चोरी के स्थान पर पहुंचने के लिए कहा। वह वापिस उक्त स्थान पर पहुंचे। जहां पुलिसकर्मी ने कहा कि देर रात हो चुकी है। इसलिए एफआईआर दर्ज नहीं हो सकती है । इसलिए आप 16 फरवरी को सुबह पुलिस चौकी सेक्टर 16 आकर शिकायत दे देना।

16 फरवरी की सुबह वह चौकी में गए। लेकिन पुलिसकर्मी ने कहा कि अभी वह बाहर है तो शाम को आ जाना। शाम तक फोन नहीं आने के बाद उन्होंने रात के साढ़े 9 बजे पुलिसकर्मी जयप्रकाश और यशपाल को फोन किया। जिसके बाद वह रात करीब 11 बजे पुलिस चौकी सेक्टर 16 पहुंचे। देर रात को जाने के बाद भी उनकी एफआईआर दर्ज नहीं की। उनको सुबह दोबारा से आने के लिए कहा। वह 17 फरवरी की सुबह दोबारा से सेक्टर 16 की चौकी में गए।

लेकिन वह पुलिसकर्मी यशपाल और जयप्रकाश चैकी में मौजूद नहीं थे। तब चौकी इंचार्ज दिलभाग द्वारा दोनों फोन करके बुलाया गया। उसके बाद उन्होंने कहा कि एपआईआर ऑनलाइन दर्ज होती है और उनके पास कोई ऑनलाइन दर्ज नहीं होती है। इसके लिए उनको सेक्टर 17 के पुलिस थाने में जाना होगा।

उसके बाद वह 17 फरवरी को थाने में गए जहां उन्होंने उनकी शिकायत ले ली। और 18 फरवरी की सुबह एपआईआर दर्ज हुई है। उन्होंने बताया कि एक छोटी सी चोरी की एफआईआर दर्ज करने के लिए उनको तीन दिनों तक चैकी से लेकर थाने के चक्कर लगाने पड़ रहे है।

सिर्फ लोगों को दिखाने कहते है डीएम


अगर लोगों के द्वारा कोई भी शिकायत फरीदाबाद पुलिस, सीएमओ हरियाणा, डीसी फरीदाबाद, पीएमओ इंडिया, नरेंद्र मोदी, अमित शाह को सोशल मीडिया के जरिए दी जाती है। तो वह तुंरत उस व्यक्ति को कहते है कि अपना नंबर डीएम करें। लेकिन नंबर डीएम करने के बाद भी व्यक्ति से कोई भी संर्पक नहीं करता है।

शुभ्रज्योति बनर्जी ने बताया कि तीन दिनों से वह टिव्टर पर इन सभी उच्च अधिकारियों को शिकायत कर रहे है लेकिन कोई भी कार्यवाही नहीं हो रही है। सब एक चैकी से दूसरे थाने या फिर यू कहें कि सुबह से लेकर शाम, शाम से लेकर रात करके चक्कर कटवा रहे थे।

गलतियों के साथ दर्ज हुई एफआई आर


शुभ्रज्योति बनर्जी ने बताया कि तीन दिन बाद एफआरआई तो दर्ज कर ली। लेकिन उस एफआईआर में लिखा गया है कि चोरी 15 फरवरी को सुबह 8ः30 बजे के समय हुई है। बल्कि चोरी रात को 8ः30 बजे हुई है। जोकि उन्होंने रात को सुबह कर दिया। इसके अलावा उन्होंने एफआईआर के उपर कोई भी साइन नहीं किए है। उनको गलतियों को ठीक करने के लिए कहा गया। लेकिन उन्होंने कहा कि गलतियों को ठीक करने में कम से कम तीन दिन ओर लगेंगें। इसी वजह से उन्होंने गलतियों को ठीक नहीं किया।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More