HomeCrime4 साल लावारिस बच्चे को पुलिस चौकी बस स्टैंड ने घर पहुंचाया

4 साल लावारिस बच्चे को पुलिस चौकी बस स्टैंड ने घर पहुंचाया

Published on

पुलिस चौकी बस स्टैंड बल्लबने लावारिस हालत में झाडियो में घुमते हुए 4 साल बच्चा मिला था। जिसको उसके परिवार को सौंपकर बडा ही प्रशंसा योग्य कार्य किया है। आपको बता दें कि पुलिस चौकी बस स्टैंड की टीम को गश्त के दौरान बस स्टैंड बल्लभगढ़ के पास झाडियों में लावारिस हालत में घुमता हुआ एक बच्चा मिला।

पुलिस ने जब बच्चे से उसके बारे में पूछने तो बच्चा कुछ नही बता पाया। जो बच्चे को चौकी में लाया गया। बच्चे को बैठाकर पानी दिया और खाना खिलाया। इस परिस्थिति में पुलिस को बच्चे को उसके परिवार वालों तक पहुंचने के लिए काफी मशक्कत करनी पडी।

4 साल लावारिस बच्चे को पुलिस चौकी बस स्टैंड ने घर पहुंचाया

चौकी प्रभारी ने परिवार वालो की तलाश के लिए एक टीम बनाई। जो पुलिस टीम ने फोटो की सहायता से आस-पास पता किया व उसके परिवार की तलाश की गई। जिस पर पुलिस टीम को बच्चे के माता पिता के बरे पता चला जो बच्चे के माता पिता को अपने साथ चौकी में लेकर आये। बच्चे के पिता ने बताया कि वह फ्रेंड्स कालोनी बल्लभगढ़ में रहता है उसको पता नहीं घर से उसका बच्चा कब निकलकर बस अड्डा पर आ गया।

पुलिस ने बच्चे को घर वालो के हवाले कर हिदयात दी की वह अपने बच्चों को अकेला ने छोडे और उनकी निगरानी रखे। बच्चे के परिवार वालो ने पुलिस का तह दिल से धन्यवाद किया।

4 साल लावारिस बच्चे को पुलिस चौकी बस स्टैंड ने घर पहुंचाया

वहीं थाना आदर्श नगर प्रबन्धक ने बताया कि दिनांक 16 फरवरी को थाना में बच्चे के पिता गोपाल ने सूचना दी की उसका लडका घर से बिना बताये कही चला गया है जो अब तक घर नही आया है।जिस सूचना पर थाना में मुकदमा दर्ज कर तलाश शुरु कर दी। थाना प्रबन्धक ने एक टीम तैयार कर इलाके में बच्चे की तलाश के लिए भेज दी।

पुलिस टीम के ईंचार्ज ने बताया कि बच्चे के इश्तिहार जारी किए गये। बच्चे के बारे कंट्रोल रुम से सभी थाना चौकीयो में वी.टी (सूचना) करवाई गई। दिनांक 18 फरवरी को बच्चा के बारे किसी व्यक्ति ने बदरपुर बार्डर पर देखा जो पुलिस को सूचना मिलते ही पुलिस टीम बदरपुर बार्ड पर गई जो बच्चा वहा नही मिल पाया।

पुलिस टीम बदरपुर बार्डर से वापस आ रही थी तो बच्चे को बल्लभगढ़ सिटी पार्क में देखा गया बच्चे को वहां से बरामद कर लिया गया। पुलिस टीम बच्चे को थाना में लेकर आई बच्चे के माता-पिता को फोन के द्रवारा सूचना दी। जिस सूचना पर बच्चे के माता पिता थाना में आये।

बच्चे के माता पिता बच्चे को देख कर बहुत खुश हुए। बच्चे को बाद कानूनी कार्यवाई बच्चे को परिवार के हवाले कर दिया। बच्चे के माता पिता को हिदायत दी की बच्चो को प्यार से रखे। बच्चे के परिवार वालो ने फरीदाबाद पलिस का धन्यवाद किया।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...